दिव्यांगता प्रमाण पत्र 31 मार्च तक निष्पादन हो

  • दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाने हेतु समीक्षात्मक बैठक
  • उपायुक्त रांची छवि रंजन की अध्यक्षता में बैठक
  • प्राप्त आवेदनों के निष्पादन में तेजी लाने का निर्देश
  • प्राप्त आवेदनों का निष्पादन 31 मार्च 2022 से पहले करने का निदेश कलस्टर एवं प्रखंडवार कैंप हेतु शेड्यूल तैयार करने का निर्देश

रांची : 02 मार्च 2022 को रांची जिला अंतर्गत सभी दिव्यांगों का दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाने हेतु समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया। उपायुक्त रांची छवि रंजन की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा, रांची शत्रुंजय कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, जिला के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

इसे भी पढ़े : राज्य स्तरीय खेल प्रतिभा खोज के दूसरे दिन 10 जिलों के खिलाड़ियों ने प्रतिभा का जौहर दिखाया

चिन्हित करते हुए यूडीआईडी कार्ड

बैठक में उपायुक्त रांची ने इंदिरा गांधी दिव्यांग पेंशन योजना, स्वामी विवेकानंद निशक्त स्वावलंबन प्रोत्साहन योजना के लाभुकों एवं रांची जिला में पंजीकृत दिव्यांग मतदाताओं को चिन्हित करते हुए यूडीआईडी कार्ड बनाने हेतु ऑफलाइन आवेदन प्राप्त करने का निर्देश दिया। बैठक में सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा रांची शत्रुंजय कुमार ने बताया की पेंशन योजनाओं के अंतर्गत कुल 13837 लाभुकों के विरुद्ध 5560 लाभुकों का ऑनलाइन आवेदन प्राप्त हुआ है। जिसमें 3407 लाभुकों का आवेदन सत्यापन हेतु सिविल सर्जन को प्रेषित किया गया है

इसे भी पढ़े : महाशिवरात्रि को लेकर प्रशासनिक व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त

आवेदनों का निष्पादन 31 मार्च 2022 से पहले करने का निदेश

सिविल सर्जन कार्यालय में प्रेषित आवेदनों में से मात्र 374 आवेदनों का सत्यापन करने पर उपायुक्त द्वारा नाराजगी जताई गई। उन्होंने सिविल सर्जन को आवेदन के सत्यापन के लिए चिकित्सा पदाधिकारी को चिन्हित करने एवं एक से अधिक टीम गठित करते हुए आवेदनों का त्वरित निष्पादन करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि सभी आवेदनों का निष्पादन 31 मार्च 2022 से पहले पूर्ण करें।

इसे भी पढ़े : अमूल दूध आज से होगा 2 रुपये प्रति लीटर महंगा

बैठक में सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा ने बताया कि दिव्यांगता प्रमाण पत्र हेतु कक्षा एक से कक्षा 12 में पढ़ने वाले कुल 6449 दिव्यांग छात्रों को चिन्हित किया गया है। जिसमें 1379 का ही दिव्यांगता प्रमाण पत्र बना है, शेष 5070 छात्रों का दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाया जाना है। इस पर उपायुक्त महोदय द्वारा जिला शिक्षा अधीक्षक एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी को मिलकर कार्य करने का निर्देश दिया गया। उन्होंने कहा कि कुछ स्कूलों को मिलाकर कलस्टर का निर्माण करें ताकि वहां दिव्यांगता प्रमाण पत्र एवं यूडीआईडी कार्ड बनाने हेतु मेडिकल बोर्ड को भेजा जा सके। साथ ही कलस्टर में पड़ने वाले सभी स्कूलों में ंस्कूलवार दिव्यांग जनों की संख्या 03 मार्च तक उपलब्ध करायें।

इसे भी पढ़े : जम्मू-कश्मीर : गुलाम नबी आजाद के भतीजे भाजपा में शामिल, कांग्रेस को लगा झटका

कलस्टर एवं प्रखंडवार कैंप हेतु शेड्यूल तैयार करने का निर्देश

उपायुक्त ने उप विकास आयुक्त एवं सिविल सर्जन रांची को जिला अंतर्गत कलस्टर एवं प्रखंडवार कैंप हेतु शेड्यूल तैयार करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि 5 मार्च से कैंप की शुरुआत करें।

इसे भी पढ़े : मार्च के महीने में कुल 13 दिन बैंक रहेंगे बंद…

उपायुक्त ने कहा कि जिन बच्चों का दिव्यांग का प्रमाण पत्र बनाया जाना है। उनकी स्वावलंबन पोर्टल पर इंट्री सुनिश्चित करें। उन्होंने इसके लिए संबंधित प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी और सीडीपीओ को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों के यूडीआईडी कार्ड बनाने हेतु ऑफलाइन आवेदन प्राप्त करने के कार्य में संबंधित क्षेत्र की सीडीपीओ अग्रणी भूमिका निभाएं।

यूडीआईडी कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज

पासपोर्ट साइज फोटो

आधार

दिव्यांगता प्रमाण पत्र

आवासीय पता से संबंधित प्रमाण पत्र

This post has already been read 34843 times!

Sharing this

Related posts