राज्य स्तरीय खेल प्रतिभा खोज के दूसरे दिन 10 जिलों के खिलाड़ियों ने प्रतिभा का जौहर दिखाया

रांची: रांची के होटवार बिरसा मुंडा एथलेटिक्स स्टेडियम (Birsa Munda Athletics Stadium) में राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता खोज का आयोजन 01 से 4 मार्च तक किया जा रहा है. राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता खोज (State Level Sports Competition Search) में पहले दिन 10 जिलों के प्रतिभागियों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। खेल-कूद एवं युवा कार्य निदेशालय, झारखंड, राँची के द्वारा मेगा स्पोर्ट्स कांप्लेक्स बिरसा मुंडा एथलेटिक्स स्टेडियम, रांची में 01 से 4 मार्च तक आयोजित राज्य स्तरीय खेल प्रतिभा चयन प्रतियोगिता में 24 जिलों से आए प्रतिभागियो में दूसरे दिन खुटी, देवघर, लातेहार, जामताड़ा, गिरिडीह, गढ़वा, बोकारो, लोहरदगा, पाकुड़, कोडरमा समेत अन्य जिले के कुल 300 से अधिक प्रतिभागियों का एन. एस. टी. सी. विधि से जेनरल टेस्ट उचाई, वजन, 30 मीटर दौड़, बॉल थ्रो, 10 गुना 6 सटल रन, वर्टिकल जंप, 800 मी दौड़ एवम् एथलेटिक्स, फुटबॉल (बालक/बालिका), बैडमिंटन (बालक), वॉलीबॉल (बालिका) के लिए स्पेसिफिक टेस्ट किया। जेनरल टेस्ट में झारखंड एथलेटिक्स संघ के  20 योग्य तकनीकी पदाधिकारी एवं स्पेसिफिक टेस्ट के लिए खेल निदेशालय एवं जे. एस. एस. पी. एस. के आठ खेल प्रशिक्षक बच्चों के चयन प्रतियोगिता में सहयोग प्रदान कर रहे हैं।

इसे भी देखे : ऋषभ पंत धोनी के नक्शे कदम पर आगे बढ़ रहे हैं

          वही खेल निदेशालय के खेल मित्र एवम् खेल अधिकारी चयन प्रतियोगिता में अपना भरपूर सहयोग कर रहे हैं। प्रतिभा खोज चयन प्रतियोगिता के सफल संचालन में ओएसडी उमा जायसवाल, खेल परामर्शी देवेंद्र कुमार सिंह, ओलंपियन मनोहर टोपनो, मुकुल टोप्पो, पुस्पा हस्सा, प्रशिक्षक राकेश  सिंह, अनवर हुसैन, अशोक महतो, प्रवीण मिश्रा, विजय वर्मा, योगेश यादव, भरत शाह, संजू कुमार, कुश कुमार, गणेश कुमार, प्रदीप मिर्धा, शंकर पाल, राजू साहू समेत झारखंड एथलेटिक्स संघ एवं खेल विभाग द्वारा संचालित आवासीय एवं डे बोर्डिंग प्रशिक्षण केंद्र के प्रशिक्षकों की अहम भूमिका रही।

इसे भी देखे : सब जूनियर /जूनियर एवं सीनियर बालक-बालिका खो-खो टीम का चयन शुरू

चयन प्रतियोगिता कुल लगभग 1000 बालक बालिका खिलाड़ियों ने भाग लिया है| अन्तिम रूप से चयनित खिलाड़ी राज्य सरकार के संचालित आवासीय क्रीड़ा प्रशिक्षण केन्द्र में निः शुल्क,आवासन,भोजन एवम् योग्य प्रशिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा ।

This post has already been read 38203 times!

Sharing this

Related posts