जान लीजिए 1 से ज्यादा Credit Card रखने के फायदे और नुकशान

नई दिल्ली। अगर किसी के पास कई क्रेडिट कार्ड हैं, तो इसके फायदे और नुकसान दोनों हैं। हालांकि, कई क्रेडिट कार्ड हैं तो आप आर्थिक कठिनाई को कई बार झेल सकते हैं, लेकिन कार्ड लेने वाले अगर कार्ड पर निरंतर निगाह नहीं रखते तो, वे निश्चित रूप से कर्ज के जाल में फंस जाएंगे। एक्सपर्ट कहते हैं कि अगर कई कार्ड हैं तो इनका इस्तेमाल सही ढंग से करना जरूरी है।

और पढ़ें : देश छोड़ने की जद्दोजहद में उड़ती फ्लाइट से फिसलकर गिरे तीन अफगान नागरिक, देखें Video

सही कार्ड लें और उसका सही इस्तेमाल करें: सेबी रजिस्‍टर्ड इन्‍वेस्‍टमेंट एडवाइर जितेंद्र सोलंकी ने कहा, किसी व्यक्ति को बहुत ज्यादा क्रेडिट कार्ड नहीं रखना चाहिए। उन्होंने कहा, यह जरूरी है कि व्यक्ति के पास सही कार्ड हो और वे उसका सही इस्तेमाल करे। ऐसे कार्ड का चुनाव करें जिससे ज्यादा रिवॉर्ड पॉइंट या कोई ऑफर मिले।

क्रेडिट कार्ड का कम इस्तेमाल करें: जितेंद्र सोलंकी कहते हैं, क्रेडिट कार्ड का कम इस्तेमाल हो तो ज्यादा अच्छा है, इसके इस्तेमाल का अनुपात बनाए रखना जरूरी है। सोलंकी कहते हैं, यूजर को एक बार में 30-40 फीसद से अधिक क्रेडिट सीमा का उपयोग नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा, एक यूजर के पास 5 अलग-अलग कार्ड हो सकते हैं, लेकिन अगर उनका इस्तेमाल 20-30 फीसद किया जाए तो अच्छा है। अगर कार्ड का इस्तेमाल 80 फीसद से 90 फीसद होता है, तो यह दिखाता है कि यूजर बहुत ज्यादा लोन का भूखा है। तो, कार्ड की संख्या कितनी है यह मायने नहीं रखता, बल्कि इसका उपयोग कितना करना है ये मायने रखता है।

समय पर पेमेंट जरूरी: अगर किसी के पास कई कार्ड हैं, तो यह ठीक है, लेकिन अगर इन कार्ड का पेमेंट सही समय पर नहीं होता तो इससे क्रेडिट स्कोर प्रभावित होगा। बिल का पेमेंट करने के लिए प्रत्येक कार्ड की नियत तारीख पर या फोन पर मंथली रिमाइंडर रखकर क्रेडिट कार्ड पर लेट फीस से बचा जा सकता है। सोलंकी ने कहा, अगर यूजर अपने खर्चों और रीपेमेंट की योजना बनाते हैं तो कार्डों की संख्या कोई मायने नहीं रखती है। यूजर को इसका उपयोग करके खर्च की गई राशि को चुकाने में सक्षम होना चाहिए।

ज्यादा ख़बरों के लिए आप हमारे फेसबुक पेज पर भी जा सकते हैं : https://www.facebook.com/avnpostofficial

This post has already been read 16044 times!

Related posts