मारुति सुजुकी के आने वाले समय में वाहनों की बिक्री बढ़ने पर संदेह

अहमदाबाद। यात्री कार बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी के चेयरमैन आर.सी.भार्गव ने आने वाले समय में वाहन बिक्री बढ़ने को लेकर शुक्रवार को आशंकाएं व्यक्त की। उन्होंने ईरान से कच्चा तेल आयात पर अमेरिका के प्रतिबंध तथा उत्सर्जन के नये प्रावधान जैसे कारकों को आने वाले समय की बिक्री के लिये नकारात्मक माना। उल्लेखनीय है कि भार्गव ने कुछ ही रोज पहले यह उम्मीद जाहिर की थी कि चुनाव के बाद वाहनों की बिक्री में तेजी आ सकती है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि मुझे इस बात का पूरा यकीन रहता कि चुनाव के बाद वाहनों की बिक्री बढ़ेगी, लेकिन ईरान से कच्चा तेल आयात पर अमेरिका के प्रतिबंध तथा वाहनों के उत्सर्जन के बारे में नये प्रावधान कुछ ऐसे कारक हैं जो आने वाले समय में बिक्री को प्रभावित कर सकते हैं। अगले साल अप्रैल से डीजल कारों की बिक्री बंद करने की कंपनी की घोषणा के बारे में भार्गव ने कहा कि इसका असर जुलाई से मालूम पड़ने लगेगा। उन्होंने कहा कि हमें यह जानने के लिये दो से तीन महीने यानी जून के अंत तक रुकना होगा कि उपभोक्ता वास्तव में कैसी प्रतिक्रिया देते हैं। जब हम जुलाई में पहली तिमाही के परिणाम देखेंगे, हमें इस बारे में स्पष्ट पता होगा कि बाजार में क्या चल रहा है। भार्गव यहां उत्तरी गुजरात के सीतापुर गांव में एक मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल तथा एक उच्च माध्यमिक विद्यालय की आधारशिला रखने आये थे। कंपनी इन्हें कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत 120 करोड़ रुपये के निवेश से तैयार कर रही है।

This post has already been read 5584 times!

Sharing this

Related posts