शुरुआती तेजी के बावजूद गिरकर बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 696 अंक तक लुढ़का

नई दिल्ली। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की ओर से बनाए गए बिकवाली के दबाव के कारण घरेलू शेयर बाजार बुधवार को मजबूती हासिल करने के बावजूद गिरकर लाल निशान पर बंद हुआ। विदेशी निवेशकों की बिकवाली का दबाव इतना अधिक था कि बीएसई का सेंसेक्स आज के सर्वोच्च स्तर से 696 अंक तक लुढ़क गया। इसी तरह एनएसई के निफ्टी में भी आज के ऊपरी स्तर से 216 अंक से अधिक की गिरावट आई।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के सेंसेक्स ने आज 201.46 अंक की बढ़त के साथ 54,254.07 अंक के स्तर से कारोबार की शुरुआत की। शुरुआती कारोबार में बाजार में लिवाली का ट्रेंड बनता नजर आया। कारोबार शुरू होने के बाद पहले 20 मिनट में ही सेंसेक्स 326.98 अंक की उछाल के साथ 54,379.59 अंक के स्तर तक पहुंच गया। इसके बाद बाजार में बिकवाली शुरू हो गई, जिसकी वजह से सेंसेक्स भी नीचे लुढ़कने लगा।

इसे भी देखें : राज्यसभा चुनावः कैसे होता है मतों का निर्धारण

बिकवाली के दबाव की वजह से सुबह 10 बजे के थोड़ी देर पहले सेंसेक्स करीब 40 अंक गिरकर लाल निशान में 54,016.46 अंक तक पहुंच गया। हालांकि इसके बाद बाजार में मामूली खरीदारी भी हुई। इस खरीदारी के सपोर्ट से ये सूचकांक दोबारा हरे निशान में आकर कारोबार करने लगा लेकिन यह स्थिति अधिक देर तक नहीं रही। सुबह 11 बजे के थोड़ी देर बाद बाजार में एक बार फिर बिकवाली का दबाव तेज हो गया, जिसकी वजह से सेंसेक्स गिरता चला गया।

बीच-बीच में बाजार में होने वाली मामूली खरीदारी से सेंसेक्स को हल्का फुल्का सहारा भी मिला, लेकिन बिकवाली का दबाव इतना अधिक था कि सेंसेक्स के गिरने की गति पर लगाम नहीं लग सका। दोपहर 2 बजे के थोड़ी देर पहले तक सेंसेक्स में गिरावट जारी रही, जिसके कारण ये सूचकांक आज के ऊपरी स्तर से 696.43 अंक का गोता लगाकर 53,683.16 अंक के स्तर तक पहुंच गया।

इस स्तर पर एक बार फिर घरेलू संस्थागत निवेशकों ने खरीदारी का मूव बनाया, जिसमें उन्हें कुछ सफलता भी मिली और सेंसेक्स की स्थिति में भी कुछ सुधार हुआ। बिकवाली के दबाव से सेंसेक्स उबर नहीं सका जिसकी वजह से दिन भर के कारोबार के बाद इस सूचकांक ने 303.35 अंक की कमजोरी के साथ 53,749.26 अंक के स्तर पर आज के कारोबार का अंत किया।

सेंसेक्स की तरह ही नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के निफ्टी ने भी आज पॉजिटिव नोट के साथ 71.20 अंक की बढ़त लेकर 16,196.35 अंक के स्तर से कारोबार की शुरुआत की। शुरुआती कारोबार में हुई हल्की फुल्की खरीदारी के कारण निफ्टी थोड़ी देर में ही 98.20 अंक की तेजी के साथ 16,223.35 अंक के स्तर तक पहुंच गया। लेकिन इसके बाद बाजार में बिकवाली शुरू हो गई, जिसकी वजह से निफ्टी भी तेजी से नीचे की ओर गिरने लगा।

बिकवाली के दबाव की वजह से सुबह 10 बजे से थोड़ी देर पहले निफ्टी लाल निशान में गिरकर 16,114.30 अंक के स्तर तक आ गया। हालांकि इसके बाद हुई खरीदारी के सपोर्ट से ये सूचकांक दोबारा हरे निशान में आने में सफल हो गया। दोपहर 11 बजे के बाद थोड़ी देर बाद तक निफ्टी मामूली तेजी के साथ लगातार हरे निशान में बना रहा। इसके बाद बाजार में विदेशी निवेशकों की बिकवाली तेज हो जाने के कारण ये सूचकांक भी गोता खाने के लिए मजबूर हो गया।

बाजार में बीच बीच में हो रही खरीदारी के बावजूद विदेशी निवेशकों की बिकवाली के दबाव की वजह से निफ्टी दोपहर 2 बजे के थोड़ी देर पहले आज के ऊपरी स्तर से 216.40 अंक लुढ़क कर 16,006.95 अंक के स्तर तक आ गया। हालांकि डेढ़ घंटे के कारोबार में घरेलू संस्थागत निवेशकों की कोशिश के कारण बिकवाली पर कुछ लगाम लगा। साथ ही बाजार में लिवाली का हल्का जोर भी बना। लिवाली के इस सपोर्ट से निफ्टी की स्थिति में भी कुछ सुधार हुआ। इस सुधार के कारण निफ्टी ने 99.35 अंक की कमजोरी के साथ 16,025.80 अंक के स्तर पर आज के कारोबार का अंत किया।

इसे भी देखें : जानें पूजा सिंघल का यंगेस्ट आईएएस से होटवार जेल तक का सफर

आज दिन भर के कारोबार के बाद सेंसेक्स में शामिल 30 शेयरों में से 12 शेयर मुनाफा कमाकर हरे निशान में बंद हुए। जबकि 18 शेयर बिकवाली के दबाव में लाल निशान में बंद हुए। इसी तरह निफ्टी के सेक्टोरल इंडेक्सों में से 3 इंडेक्सों में बढ़त दर्ज की गई, जबकि आठ इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुए। आज के कारोबार में आईटी सेक्टर में सबसे ज्यादा 3.38 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा पीएसयू बैंक, मीडिया और ऑटो सेक्टर में भी दो प्रतिशत से अधिक की गिरावट दर्ज की गई। दूसरी ओर फाइनेंशियल सर्विसेज और प्राइवेट बैंक सेक्टर में मामूली तेजी बनी रही।

दिन भर हुई खरीद बिक्री के बाद दिग्गज शेयरों में से एनटीपीसी 3.91 प्रतिशत, एचडीएफसी लाइफ 2.93 प्रतिशत, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस 2.11 प्रतिशत, भारती एयरटेल 1.47 प्रतिशत और एचडीएफसी 1.39 प्रतिशत की मजबूती के साथ आज के टॉप 5 गेनर्स की सूची में शामिल हुए। दूसरी ओर एशियन पेंट्स 8.06 प्रतिशत, अडाणी पोर्ट्स 5.88 प्रतिशत, डिवीज लैब 3.89 प्रतिशत, टीसीएस 3.66 प्रतिशत और यूपीएल 3.60 प्रतिशत की कमजोरी के साथ आज के टॉप 5 लूजर्स की सूची में शामिल हुए।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें…

This post has already been read 15283 times!

Sharing this

Related posts