चीन के छोटे बैंकों को पहले से कम अनुपात में आरक्षित धन रखने की जरूरत

बीजिंग। घरेलू अर्थव्यवस्था में कमजोरी के लक्षणों के बीच चीन के केंद्रीय बैंक ने लघु और मझोले बैंकों पर लागू ‘अनिवार्य आरक्षित कोष का अनुपात’ (आरआरआर) कम कर के आठ प्रतिशत करने की सोमवार की घोषणा की। इससे बैंकों के पास कारोबार के लिए कर्ज सहायता देने हेतु पहले से अधिक धन मुक्त हो सकेगा उनके धन की लागत भी कम होगी। पीपुल्स बैंक आफ चाइना ने सोमवार को एक बयान में कहा कि आरआरआर में कटौती 15 मई से लागू होगी। इससे करीब 1000 बैंकों को फायदा होगा और उनके पास कर्ज के लिए 280 अरब यूआन (2900 अरब रुपये) मुक्त होंगे। चीन के निर्यात की वैश्विक मांग धीमी पड़ने से आर्थिक वृद्धि प्रभावित हुई है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने रविवार को सप्ताह के अंत तक चीन पर नए शुल्क लगाने की घोषणा की है। उसके बाद चीन ने उक्त कदम उठाया है।

This post has already been read 7165 times!

Sharing this

Related posts