दो अधिकारियों की नियुक्ति के बाद यश बैंक के शेयर में 7 फीसदी की तेजी

नई दिल्ली । निजी क्षेत्र के यस बैंक ने अपने बारे में फैली अफवाहों का सोमवार को जवाब दिया। साथ ही तिमाही नतीजे जारी करने की तारीख भी बताई। इसके बाद यस बैंक के शेयर में 7 फीसदी की तेजी देखने को मिली।
यस बैंक का शेयर पांच साल के निचले स्तर पर पहुंच गया था। इसका कारण था कि यस बैंक को लेकर बाजार में कई तरह की अफवाहें फैली हुई हैं। सोमवार को बैंक ने एक बयान जारी कर बताया कि बैंक ने मैनेजमेंट में दो सीनियर अधिकारियों को नियुक्त किया है। गवर्नेस और कंट्रोल के लिए राजीव उबेरॉय को सीनियर ग्रुप प्रेसीडेंट बनाया है और फाइनेंशियल मैनेजमेंट और स्ट्रैटेजी के लिए अनुराग अदलखा को बैंक का सीनियर ग्रुप प्रेसीडेंट बनाया गया है।

उल्लेखनीय है कि यस बैंक की नतीजों पर 17 जुलाई को बोर्ड बैठक होगी।बैठक में 30 जून तक की तिमाही के नतीजों पर विचार होगा। बैंक ने कहा है कि इन दोनों अधिकारियों के अनुभव से बैंक को फायदा होगा और मैनेजमेंट लीडरशिप मजबूत होगी। इसके बाद बैंक के शेयर में 7 फीसदी तक की तेजी देखने को मिली है। हालांकि दिन में शेयर 5.73 फीसदी की तेजी के साथ ट्रेड कर रहा था। फिलहाल, बैंक का शेयर 92.60 रुपये पर ट्रेड कर रहा है।

This post has already been read 6815 times!

Sharing this

Related posts