बजट 2019-20 उच्च आर्थिक वृद्धि दर के रास्ते पर देश को लौटने की रूपरेखा पेश करता : अरूण जेटली

नई दिल्ली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली ने शनिवार को बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वर्ष 2019-20 का बजट उच्च आर्थिक वृद्धि दर के रास्ते पर देश को लौटने की  रूपरेखा पेश करता है।

 बजट पेश होने के एक दिन बाद अरूण जेटली ने ट्वीट कर कहा कि बजट विकास की आकांक्षा रखने वाले भारत के लिये राजनीतिक दिशा सृजित करता है। मध्यम वर्ग और नव-मध्यम वर्ग के हितों का इस बजट में खास ख्याल रखा गया है। उन्होंने कहा कि बजट 2019-20 में रोजगार सृजन तथा निवेश आकर्षित करने के लिये बुनियादी ढांचा, निर्माण और रीयल इस्टेट क्षेत्र को भी गति देने के उपाय किये गये हैं। जो लोग किफायती घर खरीदने के लिए उधार लेते हैं, उन्हें एक बड़ा कर प्रोत्साहन इस बजट में दिया गया है।

यह कदम केवल किफायती घरों के अनसोल्ड स्टॉक का उपयोग करने के लिए प्रणाली की मदद नहीं करेगा, बल्कि अचल संपत्ति बाजार में तरलता को इंजेक्ट करने में सहायक होगा।जेटली ने कहा कि पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क को मामूली रूप से बढ़ाया गया है ,लेकिन यह पैसा एक बुनियादी ढांचे के कोष में जाता है। वैश्विक पटल पर भारत वर्तमान में तेज आर्थिक वृद्धि वाली बड़ी अर्थव्यवस्था बना हुआ है। हालांकि पिछली दो-तीन तिमाहियों में वृद्धि नरम हुर्ह है। उन्होंने कहा कि बजट आर्थिक वृद्धि के मोर्चे पर भारत को पटरी पर लाने को लेकर रूपरेखा को रखता है। 

This post has already been read 8621 times!

Sharing this

Related posts