राज्य का विकास नहीं विनाश हो रहा है :हेमंत

कोडरमा। झारखंड संघर्ष यात्रा के तीसरे चरण में पूर्व मुख्यमंत्री और झामुमो नेता हेमंत सोरेन सोमवार की देर शाम कोडरमा पहुंचे। यहां कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया। झुमरीतिलैया के गुमो में उन्होंने नुक्कड़ सभा को संबोधित किया। सभा मे उन्होंने कहा कि झारखंड में विकास नहीं विनाश हो रहा है, शिक्षा मंत्री होते हुए कोडरमा में शैक्षणिक व्यवस्था चौपट है। ग्रामीण क्षेत्रों में जो शिक्षा को बढ़ावा मिलना चाहिए पर आज स्कूल बंद हो रहै है। नए स्कूल खोलने की बजाय बंद करके उसे मर्ज किया जा रहा है। बेटी और बेटियों को शिक्षा ग्रहण करने के लिए अपने गांव से कई मील दूर पूर्व की तरह जाना पड़ रहा है। यहां किसानों की भी स्थिति काफी बदतर है, किसानों को बीज खाद और समुचित सिंचाई की व्यवस्था नहीं मिल पा रही है। किसान झारखंड सहित अन्य राज्यों में आत्महत्या कर रहे हैं। यह निकम्मी सरकार हम झारखंड वासियों को ठगने का काम कर रही है। आपके कोडरमा जिला के विधायक शिक्षा मंत्री हैं परंतु अफसोस के साथ दुर्भाग्य है कि पूरे झारखंड में शिक्षा की व्यवस्था चौपट है और बाहरी को नौकरी दी जा रही है। अन्य राज्यों के लोग यहां शिक्षक नियुक्त किए गया जबकि यहां की बेटी बेटियों को कहा जाता है कि वह योग्य नहीं है। मौके पर कमल नयन सिंह, गोपाल यादव, श्याम किशोर सिंह, रविंद्र शांडिल, संजय पांडेय, वीरेंद्र पांडेय, निर्मला तिवारी, संजय कुमार साजन, रामेश्वर वर्मा, मंजू देवी, संदीप पांडेय, भानु प्रताप सिंह, अर्जुन महतो सहित काफी संख्या में स्थानीय लोग नुक्कड़ सभा में शामिल थे। नुक्कड़ सभा के पश्चात झुमरीतिलैया झंडा चौक पर हेमंत सोरेन का स्वागत किया गया। मंगलवार को डोमचांच के फुलवरिया में झामुमो की महती सभा का आयोजन किया गया है जिसे पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन संबोधित करेंगे।

This post has already been read 7368 times!

Sharing this

Related posts