डॉक्टर की गैर-मौजूदगी में नर्स ने कराई डिलीवरी, माँ -बच्चा की मौत

कोरबा । कोरबा जिले के सरकारी अस्पताल में डॉक्टर की अनुपस्थिति में वहां के नर्स और स्टॉफ ने गर्भवती महिला की डिलीवरी करवाई लेकिन इससे महिला के शरीर में इंफेक्शन फैल गया और जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गई।छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य सेवाएं बेहाल हैं. यहां के कोरबा में एक गर्भवती महिला की प्रसव के बाद जच्चा और बच्चा दोनों की मौत हो गई इस मामले में अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया गया है।

बताया जा रहा है कि जब रविवार को महिला को प्रसव पीड़ा हुई, तब अस्पताल में कोई भी डॉक्टर मौजूद नहीं था। वहां मौजूद नर्स और अन्य स्टाफ ने प्रसव करवाया लेकिन जच्चा और बच्चा दोनों की मौत हो गई।दरअसल कोरबा जिले के रंजना गांव के रहने वाले इंद्रपाल चौहान ने अपनी पत्नी लक्ष्मी चौहान को प्रसव पीड़ा होने पर रविवार को सीएससी में भर्ती कराया। लेकिन यहां डॉक्टर मौजूद नहीं थे।गर्भवती महिला की पीड़ा देखकर नर्स और अन्य स्टाफ ने उसका प्रसव कराया।

लेकिन प्रसव के बाद नवजात की मौत हो गई, लक्ष्मी चौहान की हालत गंभीर होने पर उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया लेकिन रास्ते में उसकी भी मौत हो गई.सुविधा की कमी का आरोपमृतक महिला के पति इंद्रपाल चौहान ने आरोप लगाया कि रंजना अस्पताल में सुविधाओं की कमी और डॉक्टर की अनुपस्थिति में प्रसव हुआ था इसलिए ये हादसा हुआ। कोरबा के सीएमएचओ बीबी बोड़े ने कटघोरा बीएमओ को मामले में जांच के निर्देश दिए हैं।

This post has already been read 6528 times!

Sharing this

Related posts