नक्सलियों का तांडव, ईट भट्टे पर जेसीबी, ट्रैक्टर और एक बाइक को किया राख

रामगढ़। रामगढ़ जिले का वेस्ट बोकारो ओपी क्षेत्र एक बार फिर नक्सलियों के तांडव से दहल उठा है। इस ओपी क्षेत्र के लइयो काठीटांड़ स्थित अजय मेहता ईट भट्टे पर नक्सलियों ने हमला किया है। शनिवार की देर रात हुए इस हमले से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। रविवार को घटनास्थल पर पहुंचे एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि नक्सलियों ने ईट भट्टे पर मौजूद एक जेसीबी मशीन, एक ट्रैक्टर और एक बाइक को फूंक दिया है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस रविवार की सुबह वहां पहुंची और पूरे मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

इसे भी पढ़ें : आर्यन खान ड्रग्स केसः गवाह प्रभाकर की मौत की होगी जांच, गृहमंत्री पाटिल ने दिए डीजीपी को आदेश

नक्सलियों ने मजदूरों को पीटा, कहा दोबारा काम किया तो मार देंगे गोली

अजय मेहता के ईट भट्टे पर मौजूद मजदूरों के साथ नक्सलियों ने मारपीट भी की है। पीड़ित मजदूरों के अनुसार देर रात अचानक हथियारबंद लोग अपना चेहरा ढक कर वहां पहुंचे और तांडव शुरू कर दिया। गाड़ियों में मौजूद तेल से ही जेसीबी, ट्रैक्टर और बाइक में आग लगा दी। इसके बाद उन लोगों ने कहा कि अगर उसी के भट्टे पर दोबारा किसी मजदूर ने काम किया तो वे उसे गोली मार देंगे। नक्सलियों ने चिमनी भट्ठे के मजदूरों के साथ मारपीट करते हुए काम बंद करने की धमकी दी। उस ईट भट्टे पर लगभग 300 मजदूर काम करते थे। इस हादसे के बाद रविवार को एक भी मजदूर वहां पर काम करने नहीं पहुंचा।

ये भी देखें : संजना झारखण्ड की मशहूर कोरिओग्राफर

नक्सलियों की गिरफ्तारी के लिए की जा रही छापेमारी

एसपी , रामगढ़ एसडीपीओ किशोर कुमार रजक, बेस्ट बोकारो ओपी प्रभारी अखिलेश चौबे ने नक्सलियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी शुरू कर दी है। जिला पुलिस बल व रहावन कैंप के सीआरपीएफ बटालियन नक्सलियों के विरुद्ध कार्रवाई शुरू करते हुए समीप के झूमरा पहाड़ व जंगल में अभियान चला रही है। घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल कायम हो गया है।

नक्सलियों ने मांगी थी पांच लाख रुपए की लेवी

जानकारी के अनुसार नक्सलियों के द्वारा ईट भट्ठा मालिक से पांच लाख रुपए की लेवी मांगी गई थी। यह रकम नहीं देने के कारण ही नक्सलियों ने ईट भट्टे पर हमला किया है। वहां पहुंचे लगभग दो दर्जन नक्सली वर्दी पहने हुए थे और उनके हाथों में हथियार भी थे। नक्सलियों के द्वारा भट्ठा के मुंशी रितीक ठाकुर, रामजी यादव व कालेश्वर मेहता की तलाश की जा रही थी। जब कोई मुंशी नक्सलियों के हाथ नहीं चढ़ा तो उन लोगों ने मजदूरों के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें…

This post has already been read 22015 times!

Sharing this

Related posts