आर्यन खान ड्रग्स केसः गवाह प्रभाकर की मौत की होगी जांच, गृहमंत्री पाटिल ने दिए डीजीपी को आदेश

मुंबई। महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने कहा कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के गवाह प्रभाकर साईल की मौत पूरी तरह संदेहास्पद लग रही है। इसलिए इसकी जांच का आदेश पुलिस महानिदेशक को दिया गया है। गवाह साईल की मौत की गहन छानबीन के बाद जो सच्चाई सामने आएगी, उसे आम जनता के समक्ष लाया जाएगा।

इसे भी देखें : आज मिलिये युवा दिलों पर राज करने वाले फैशन कोरिओग्राफर से

गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि एनसीबी के गवाह की शुक्रवार को हार्ट अटैक के बाद मौत हुई है। इस मौत को फिलहाल स्वाभाविक मौत बताया जा रहा है और माना जा रहा है। हालांकि बहुत से लोगों ने इस मौत को लेकर संदेह व्यक्त किया है। इसी वजह से उन्होंने गवाह प्रभाकर साईल की मौत मामले की जांच का आदेश किया है।

उल्लेखनीय है कि एनसीबी की टीम ने 2 अक्टूबर को द इम्प्रेस कर्डिलिया शिप पर होने वाली ड्रग पार्टी पर छापा मारकर 20 आरोपितों को गिरफ्तार किया था। इन आरोपितों में फिल्म अभिनेता शाहरुख खान का बेटा आर्यन खान भी था। इस मामले के गवाह प्रभाकर साईल ने आरोप लगाया था कि आर्यन खान की गिरफ्तारी से पहले एनसीबी टीम ने शाहरुख खान से फोन पर रंगदारी मांगी थी और एडवांस रकम ली थी। आगे की रकम नहीं मिलने पर एनसीबी टीम ने आर्यन खान को ड्रग मामले में गिरफ्तार किया था।

और पढ़ें : गिरिडीह की छात्रा महिमा लोहानी ने 38 वां स्थान प्राप्त कर यूपीएससी परीक्षा में अपना परचम लहराया

इस आरोप के बाद दिल्ली एनसीबी ने कठोर कार्रवाई करते हुए एसआईटी का गठन किया था। दिल्ली एनसीबी एसआईटी ने प्रभाकर साईल का बयान दर्ज किया था। इसके बाद मुंबई एनसीबी टीम के प्रमुख पद से समीर वानखेड़े को हटा दिया गया था। बाद में मुंबई एनसीबी के अधिकारी विश्वनाथ तिवारी को अनियमितता का दोषी पाये जाने पर निलंबित कर दिया गया था।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें…

This post has already been read 16722 times!

Sharing this

Related posts