पटना में खुलेगा इसरो का केंद्र, अंतरिक्ष संबंधित शोध को मिलेगा बढ़ावा…

पटना : बिहार के बच्चे भी सेटेलाइट बनाएंगे। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो), बेंगलुरु की साइंटिफिक शाखा खोलेगी। क्षेत्रीय शैक्षणिक केंद्र व साइंटिफिक सेंटर की स्थापना के लिए कल यानी 24 नवंबर को इस इसरो व एनआईटी पटना के बीच समझौता पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।

इसे भी पढ़ें : 1.42 करोड़ गबन मामले में कार्रवाई शुरू, लेखापाल समेत दो गए जेल…

साइंटिफिक सेंटर क्या स्थापना होने से बीटेक और एमटेक के छात्र भी अंतरिक्ष से संबंधित अनुसंधान कर पाएंगे और उसे बढ़ावा मिलेगा। एनआईटी के कोर्स में जल्दी अंतरिक्ष विज्ञान को भी शामिल किया जाएगा।

Advt

हस्ताक्षर होते ही एनआईटी पटना के कैंपस में इसरो सेटअप स्थापित करेगी।एनआइटी पटना आरएसी-एस अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष विज्ञान और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों से संबंधित क्षमता निर्माण, जागरूकता निर्माण और अनुसंधान और विकास गतिविधियों में भाग लेने के लिए क्षेत्र के संस्थानों को भी सुविधा मुहैया कराएगा।

Advt

एनआईटी पटना के डायरेक्टर पीके जैन ने बताया कि इसरो और एनआईटी पटना के बीच कम्युनिकेशन व सेंटर स्थापना के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर की तैयारी अंतिम चरण पर है।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें

This post has already been read 5097 times!

Related posts