संविधान गौरव दिवस यात्रा में अमर बाउरी ने कहा, हमें गर्व है कि हम विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र हैं

रांची : भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष चंदनकियारी विधायक अमर कुमार बाउरी ने संविधान गौरव दिवस यात्रा को लेकर भारतीय जनता पार्टी मुख्यालय स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय सभागार में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमें गर्व है कि हम विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र है। इसका श्रेय बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के संविधान के द्वारा लिखित संविधान को जाता है।

इसे भी पढ़ें : 1.42 करोड़ गबन मामले में कार्रवाई शुरू, लेखापाल समेत दो गए जेल…

उनके द्वारा लिखित संविधान विश्व का एकमात्र हस्त लिखित संविधान है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे उस वक्त उन्होंने संविधान के प्रति अपनी आस्था जताते हुए गुजरात से ही संविधान गौरव दिवस यात्रा शुरू की थी और अब जब वे देश के प्रधानमंत्री हैं तो उन्होंने संविधान गौरव दिवस यात्रा को राष्ट्रीय स्तर पर मनाने की घोषणा की है।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाल सिंह आर्य के निर्देश पर मोर्चा 26 नवंबर से लेकर 6 दिसंबर, जो बाबा साहब का महापरिनिर्वाण दिवस है, तक संविधान गौरव दिवस अभियान झारखंड प्रदेश के सभी 24 जिलों में की जा रही है। 26 नवंबर को राजधानी रांची के शहीद अल्बर्ट एक्का चौक से झारखंड हाईकोर्ट के समीप बाबा साहब की प्रतिमा तक जाएगी।

उन्होंने कहा कि बाबा साहब द्वारा लिखा गया संविधान हमारे देश का सबसे बड़ा सम्मान है। यह हमारे देश के संचालन की व्यवस्था है। जब भारत देश आजाद हुआ था तो पूरा विश्व इस बात से चिंतित था कि टुकड़ों में बंटा हुआ भारत कैसे एकत्रित हो पाएगा। लेकिन आज हमें गर्व है कि हम अपने आजादी के अमृत वर्ष को मना रहे हैं और यह सभी बाबा साहब के द्वारा लिखे गए संविधान के माध्यम से ही संभव हो सका है।

उन्होंने कहा कि हमे गर्व है कि भारत आजादी का 75वा वर्ष मना रहा है। हम सभी अपने लोकतंत्र को अक्षुण बना कर दुनिया का नेतृत्व कर रहे है। जब भी मौका मिला है पीएम ने अपने नेतृत्व से देश का मान बढ़ाया है। आज समाज अवसर का लाभ ले कर आगे बढ़ रहा हैं। सभी के जीवन मे समान अवसर मिले ऐसा प्रयास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाबा साहेब के संविधान के माध्यम से किया है।

Advt

उन्होंने कहा कि संविधान के कारण ही आज हम सब अपने अधिकार का उपयोग कर रहे हैं। ऐसे महान संविधान को नमन करने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है। संविधान की रक्षा का शपथ लेते हुए यह आयोजित की जा रही है।

उन्होंने बताया कि कल एक क्विज प्रतियोगिता भी होगी। संविधान से जुड़े कई मुद्दों को जन जन तक पहुंचाया जाएगा और विजेताओं को 6 दिसंबर यही बाबा साहेब के महापरिनिर्वाण दिवस को पुरष्कृत किया जाएगा। पलामू और हजारीबाग सहित सभी प्रमंडल में एक संगोष्ठी भी आयोजित की जाएगी। देश के 75वे आजादी के अवसर पर देश भर में 75 कार्यक्रम आयोजित हो रहे है। कल के अभियान में आम जनता और सभी मीडिया के बंधु सदर आमंत्रित है।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को चाहिए कि सभी आयोग में रिक्त पड़े पद पर नियुक्ति करे। ताकि संविधान के माध्यम से हर किसी को लाभ मिल सके। राज्य सरकार ने हाल में ही विधान सभा में अपने वोट बैंक को बढ़ाने के उद्देश्य से एक विशेष समुदाय के लिए कमरा आवंटित किया गया था। जिसका पुरजोर विरोध भाजपा के द्वारा किया गया।

Advt

उन्होंने जेपीएससी के मामले पर कहा कि जे पी एस सी में हुई अनिमियतता के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों पर लाठी चार्ज किया गया और जो नेता या जन प्रतिनिधि अभ्यर्थी का समर्थन कर रहे थे वैसे निहत्थे नेताओं पर भी लाठियां भांजी गयी। यह बाबा साहेब के संविधान की हत्या है।

वहीं उन्होंने कृषि बिल के विषय पर उन्होंने कहा कि जो बिल संसद के माध्यम से कानून बनाया तो कुछ लोग भ्रम फैला कर सड़को पर प्रदर्शन करने लगे तो मजबूरन अपने लोगों की रक्षा और सुरक्षा के लिए वो किसान बिल को केंद्र सरकार नेा वापस लिया। कांग्रेस के समय मे इमरजेंसी लगाया गया था। लेकिन नरेंद्र मोदी ने संविधान पर पूरी निष्ठा रखते हुए एक सकारात्मक पहल की है।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें

This post has already been read 3269 times!

Related posts