कांग्रेस विधायक रामलिंगा रेड्डी ने दिया इस्तीफा

बेंगलुरु। कांग्रेस विधायक आनंद सिंह और रमेश जारकीहोली के बाद रामलिंगा रेड्डी ने भी शनिवार को इस्तीफा देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि वे छात्र जीवन से ही कांग्रेस से जुड़े थे लेकिन उन्हें दुख है कि पार्टी छोड़नी होगी। 
रेड्डी ने विधानसौधा में संवाददाताओं से कहा कि वह विधायक के रूप में अपना इस्तीफा देने आए हैं। मैं पहले ही इस्तीफे का कारण बता चुका हूं। कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी (केपीसीसी) के कार्यकारी अध्यक्ष ईश्वर खंडरे ने रेड्डी के साथ बातचीत कर इस्तीफा नहीं देने के लिए समझाने की कोशिश की। 
यह एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाले गठबंधन के लिए एक और झटका है क्योंकि कांग्रेस के दो अन्य विधायक आनंद सिंह और रमेश जारकीहोली ने इस सप्ताह की शुरूआत में इस्तीफा दे दिया था। उधर, रामालिंगा रेड्डी की बेटी सौम्या रेड्डी ने भी इस्तीफा देने का फैसला किया है।

इन विधायकों के इस्तीफे की स्वीकृति में देरी हो सकती है क्योंकि विधानसभा के स्पीकर आज सुबह अपने रिश्तेदार से मिलने अस्पताल गए थे। उन्होंने कहा कि वह सोमवार को कार्यालय नहीं आएंगे और मंगलवार को वापस लौटेंगे। उधर, गठबंधन सरकार पर गहराए संकट के मद्देनजर मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी अमेरिका की यात्रा में कटौती कर वापस लौट रहे हैं, जिनके कल सुबह तक शहर में पहुंचने की उम्मीद है।   पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के वफादार एसटी सोमाशेखर, ब्यारहट्टी बसवराज और मुनिरत्ना भी विधानसौधा पहुंचे थे लेकिन सोमशेखर ने संवाददाताओं से कहा कि वह यहां इस्तीफा देने के लिए नहीं बल्कि पार्टी का समर्थन करने के लिए आये हैं। सरकार पर आये संकट को देखते हुए कर्नाटक मामलों के प्रभारी और कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल की आज शाम बेंगलुरु पहुंचने की उम्मीद है। कांग्रेस के संकटमोचक डीके शिवकुमार ने दावा किया कि कोई भी इस्तीफा नहीं देगा, वे यहां उनसे मिलने आए हैं। 

This post has already been read 6134 times!

Sharing this

Related posts