क्या आपको पता है मांसपेशियां के लिए क्यों जरुरी है प्रोटीन…

मांसपेशियों को मजबूत बनाने प्रोटीन सबसे जरुरी है। वहीं एक अध्ययन के अनुसार 71 फीसदी भारतीयों की मांसपेशियां कमजोर हैं। एक अध्ययन में यह भी पाया गया था कि करीब 84 फीसदी शाकाहारी और 65 फीसदी मांसाहारी लोगों के आहार में प्रोटीन की काफी कमी है। इससे पता चलता है कि कई लोगों को भरपूर मात्रा में प्रोटीन नहीं मिल पा रहा है, जिस कारण लोगों की मांसपेशियां कमजोर होती जा रही हैं। और पढ़ें : नन्हें बच्चे भी हो रहे मोबाइल के आदी, उन्हें दोबारा ऐसे लगाएं पढ़ाई पर……

Read More

ऐसे रखें सर्दियों में दिल का विशेष ख्याल, नहीं तो हो सकती है परेशानी…

सर्दियों में दिल की बिमारियों का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप भी दिल के रोगी हैं, तो अपने दिल का ख्याल रखें। बढ़ती सर्दी हमारे स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती है। सर्दी के मौसम का हृदय रोगों से गहरा संबंध होता है। सर्दी की वजह से हृदय व रक्त संचार प्रभावित होते है। सर्दी मौसम की वजह से दिल की धमनियां सिकुड़ जाती हैं, जिससे दिल में रक्त और ऑक्सीजन का संचार कम होने लगता है। इसे भी पढ़ें : सर्दियों में मूली खाने के होते हैं बड़े फायदे…

Read More

मेथी का इस्तेमाल कई बीमारियों में फायदेमंद, जानिए किन बिमारियों में देता है फायदा

मेथी के दानों में पाए जाते हैं कई तरह के पोषक तत्व नई दिल्ली। मेथी का इस्तेमाल सिर्फ मसालों में ही नहीं किया जाता बल्कि भारत में इससे कई तरह के इलाज सदियों से किए जाते रहे हैं। मेथी के दानों में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। स्किन के इलाज में मेथी का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है। साबुन और शैंपू बनाने में भी मेथी का प्रयोग किया जाने लगा है। और पढ़ें : काम करते-करते उब गये हैं और ऑफिस में आपका मन नहीं लग रहा…

Read More

Hamari Sehat : शिशु को चलने-बैठने में दिक्कत हो तो, ये संकेत है विटामिन डी की कमी के,जाने डॉक्टर से इलाज

डा जितेंद्र सिन्हा (जसलोक अस्पताल) Hamari Sehat : जन्म के बाद यदि शिशु के सिर का उपरी हिस्सा छूने पर मुलायम लगे तो विटामिन डी की कमी समझना चाहिए.१२-१५ वर्ष के बच्चे यदि झुककर चले तो वह भी विटामिन डी के कमी की पहचान है. बढते शिशु को यदि चलने और बैठने में दिक्कत हो रही हो,वजन नहीं बढ़ रहा हो या उंगलियां टेढ़ी-मेढ़ी हो रही हो तो भी विटामिन डी का ईलाज करवाना चाहिए. Bollywood : फिल्म ‘पृथ्वीराज’ का शानदार टीजर जारी, जल्द ही सिनेमाघरों में दस्तक विटामिन डी…

Read More

सर्दियों में मूली खाने के होते हैं बड़े फायदे जान कर रह जायेंगे दंग…

गुणकारी तत्व दिल की बीमारियां और बीपी करता है कंट्रोल नई दिल्ली। मूली ना सिर्फ स्वाद में बेहतरीन होती है, बल्कि इसमें मौजूद गुणकारी तत्व हमारी इम्यूनिटी, ब्लड प्रेशर और रक्त वाहिकाओं के लिए भी फायदेमंद होते हैं। सर्दियों में मूली खाने से सेहत को बड़े फायदे होते हैं। ज्यादातर लोग इसे सलाद के साथ खाना पसंद करते हैं। मूली में उच्च मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है जो सर्दियों में होने वाले कफ और सर्दी-जुकाम से बचाती है। मूली शरीर के इम्यून सिस्टम को भी बढ़ाने का काम…

Read More

आपके दिल की सेहत के लिए घातक हो सकता वायु प्रदूषण…

हार्ट फेल से होने वाली मौतों के मामले में भारत दूसरे नंबर पर नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उससे सटे एनसीआर क्षेत्र की हवा में प्रदूषण का स्तर बेहद खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है। हवा में प्रदूषक तत्वों के चलते चारों ओर धुंध सी छाई हुई है। हवा में मौजूद ये प्रदूषण आपके दिल की सेहत के लिए खतरा बन सकता है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (एएचए) की ओर से हाल ही में पेश की गई एक रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है। इस रिसर्च में शोधकर्ताओं ने पाया…

Read More

Hamari Sehat : क्या आपको पता है डॉक्टर के पर्चे पर नाम, डिग्री और हस्ताक्षर क्यों होता है?

डॉ.जितेंद्र सिन्हा Ranchi : चिकित्सा करने की सबसे प्रचलित विधि को इमपिरिकल थेरेपी या अनुभव जनित चिकित्सा कहते हैं। विज्ञान के स्थापित नियमों का पालन करते हुए अनुभव के आधार पर डाक्टर मरीज के उम्र, लक्षण, उसकी प्रतिरक्षा, सम्भावित बैक्टेरिया का आकलन करते हैं। और पढ़ें : हड़िया दारू निर्माण व बिक्री से जुड़ी ग्रामीण महिलाओं को मिलेगा सम्मानजनक आजीविका का तोहफा : डॉ. मनीष रंजन 100% शर्तिया ईलाज,बिमारी ठीक न होने पर पैसा वापिस,डायबिटीज़ और हृदय रोग में विशेष अनुभव जैसी शब्दावली का कोई कानूनी महत्व नहीं होता है।…

Read More

वायु प्रदुषण से नहीं बचे तो फेफड़े ही नहीं दिल भी पड़ सकता है कमजोर…

नई दिल्ली। उत्तर भारत में दिवाली और उसके आसपास हवा की गुणवत्ता खतरनाक स्थिति में पहुंच जाती है। ऐसे में स्वास्थ्य का ध्यान रखना और भी जरूरी हो जाता है। बुजुर्गों और हार्ट से संबंधित बीमारियों के मरीजों का विशेष रूप से ध्यान रखने की जरूरत होती है। और पढ़ें : पौधों को आधा घंटा गाना सुनाने के मिलेंगे 50 हजार, पढ़िए कहां मिल रही है ऐसी नौकरी… हाल ही में किए गए एक अध्ययन में सामने आया है कि वायु प्रदूषण का हानिकारक असर उन लोगों के हार्ट पर…

Read More

पसीने में नहीं होती कोई गंध, एक एंजाइम होता है गंध के ‎‎लिए ‎जिम्मेदार…

लंदन। मानव के शरीर से निकलने वाले पसीने की अपनी कोई गंध नहीं होती है, बल्कि इसके लिए एक खास तरह का एंजाइम जिम्मेदार है। वैज्ञानिकों ने इसे बीओ एंजाइम नाम दिया, जिसके कारण ही पसीने से गंध आती है। यॉर्क यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इसपर रिसर्च की। इस दौरान पाया गया कि पसीने के कारण बांहों के नीचे बैक्टीरिया जमा हो जाते हैं। उनसे एक खास तरह का एंजाइम निकलता है, जो गंध की वजह होता है। इसे समझने के लिए ये देखा गया कि गंध कैसे बनती है।…

Read More

Hamaree Sehat : उम्र और जरूरत के हिसाब से ही विटामिन का प्रयोग करें : जितेंद्र सिन्हा ( जसलोक अस्पताल राँची)

Hamaree Sehat : अपने देश में विटामिन और टानिक का जितना प्रयोग होता है,शायद ही कहीं होता होगा। मरीज की आवश्यकता और उम्र समझें बिना फार्मूलाबद्ध होकर सभी को एक तरह की टानिक लिख दिया जाता है। इस चक्कर में बूढ़े लोगो को प्रोटीन पाउडर मिल जाता है और युवाओं को बी- कम्पलैक्स ।शिशुअवसथा से१४ वर्ष तक बढ़ते हुए शरीर को खून बढाने और बढ़ते हड्डियों की जरूरत पूरा करनी होती है। ऐसे में आयरन सिरप और कैल्शियम का प्रयोग तार्किक है। प्रोटिन पाउडर की जरूरत १५ वर्ष से ३०…

Read More