25 हजार करोड़ के इक्विटी शेयर जारी करेगा एयरटेल

मुंबई । भारती एयरटेल की बोर्ड मीटिंग में 25,000 करोड़ रुपये के इक्विटी शेयर जारी करने के प्रस्ताव को हरी झंडी दिखाई गई है। भारती एयरटेल लिमिटेड ने बाजार नियामक को सूचित किया है कि बोर्ड मीटिंग में राइट आधार पर कंपनी के पात्रता प्राप्त कर्मचारियों को अधिकतम 25,000 करोड़ रुपये के इक्विटी शेयर्स जारी करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। इसके बाद कंपनी की बैठक में इस प्रस्ताव के ड्रॉफ्ट को मान्य किया गया है। इस प्रस्ताव को अब प्रतिभूति एवं बाजार नियामक सेबी के पास भेजा जाएगा। इसके साथ ही भारती एयरटेल ने अपनी पूंजी संरचना को मजबूत करने के लिए 32,000 करोड़ या 4.5 बिलियन डॉलर की कैपिटल इन्फ़्यूज़न योजना के बारे में भी जानकारी दी है।
गौरतलब है कि जम्मू और कश्मीर में एयरटेल अपने 4 जी नेटवर्क के विस्तार की य़ोजना पर काम कर रहा है। भारती एयरटेल कंपनी ने 25,000 करोड़ रुपये के अधिकार के मुद्दे और 7,000 करोड़ रुपये के अतिरिक्त विदेशी मुद्रा सदाबहार बॉन्ड जारी करने का फैसला किया है। इस फंड रेजिंग से भारती एयरटेल देश में दूरसंचार नेटवर्क में निवेश करने के साथ ही 4 जी नेटवर्क में अपने वर्चस्व को भी हासिल करने का प्रयास कर रही है। पिछले तीन वर्षों में एक ठोस स्पेक्ट्रम पूल और मजबूत नेटवर्क निवेश के साथ एयरटेल अब निर्णायक रूप से 4 जी डेटा बाजार में अपनी मजबूत पैठ बनाने की कोशिश कर रही है। कंपनी ने प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप के साथ 11,785.7 करोड़ रुपये और सब्सक्राइबर ग्रुप के सब्सक्राइबर्स को 11,785.7 करोड़ रुपये एवं जीआईसी को 5,000 करोड़ रुपये की सदस्यता देने का फैसला किया है।
एयरटेल इंडिया के पास दिसंबर 2018 में तीसरी तिमाही के अंत तक 77 मिलियन का 4 जी ग्राहक आधार था। नेटवर्क पर कुल एमबीएस 190.9 प्रतिशत बढ़कर 3,217 अरब एमबीएस हो गया है। इस तिमाही के दौरान प्रति ग्राहक मोबाइल डेटा का उपयोग भी 96.8 प्रतिशत बढ़ा है। फिलहाल मोबाइल खपत 10,528 एमबी हो गई है।

This post has already been read 7470 times!

Sharing this

Related posts