डब्ल्यूटीओ ने फुकुशिमा मत्स्य उत्पादों पर दक्षिण कोरिया के प्रतिबंध को बरकरार रखा

सियोल। विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) ने दक्षिण कोरिया द्वारा जापान के समुद्री खाद्य उत्पादों के आयात पर लगाए गए प्रतिबंध को बरकरार रखा है। दक्षिण कोरिया ने 2011 में फुकुशिमा परमाणु आपदा से प्रभावित क्षेत्रों से उत्पादों के आयात पर प्रतिबंध लगाया था। दक्षिण कोरिया ने डब्ल्यूटीओ के फैसले का स्वागत किया है। कोरिया ने कहा कि वह फुकुशिमा और पड़ोसी सात अन्य प्रांतों से आने वाले मत्स्य उत्पादों पर रोक को जारी रखेगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि” केवल सुरक्षित खाद्य पदार्थों को ही रखा जा सके।” दक्षिण कोरिया के सरकारी नीति समन्वय कार्यालय ने बयान में कहा,”कोरियाई सरकार हमारी संप्रभुता और सुरक्षा तंत्र को बनाए रखने और उसे मजबूत करना जारी रखेगी।” जापान के विदेश मंत्री तारो कोनो ने कहा कि डब्ल्यूटीओ का फैसला” बहुत ही अफसोसजनक” है। जापान, दक्षिण कोरिया के साथ द्विपक्षीय बातचीत के जरिए आयात पर प्रतिबंध को हटाने का लक्ष्य रखेगा। तोक्यो इलेक्ट्रिक पावर कंपनी ने बताया था कि क्षतिग्रस्त फुकुशिमा परमाणु संयंत्र में टैंकों में एकत्र किए जा रहे प्रदूषित जल का रिसाव हो गया था। यह दूषित पानी 2011 में आई सुनामी के पानी में मिल गया। इसके बाद 2013 में दक्षिण कोरिया ने मत्स्य उत्पादों के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया था।

This post has already been read 8233 times!

Sharing this

Related posts