जब इस इलाके में मोबाइल पर नोटिफिकेशन आया- ‘जॉइन हिजबुल मुजाहिद्दीन

दिल्लीराजधानी दिल्ली के द्वारका के इलाके में उस वक्त सनसनी का माहौल पैदा हो गया जब लोगों के मोबाइल पर हिजबुल मुजाहिद्दीन नाम के वाई-फाई नेटवर्क का नोटिफिकेशन आने लगा। दरअसल 34 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर जब रविवार की रात अपने कार्यालय से वापस अपने घर आय़ा तो उसे अपने मोबाइल पर वाई-फाई का नोटिफिकेशन आया- ‘जॉइन हिज्बुल मुजाहिद्दीनअपने मोबाइल पर इस तरह की चीज देखकर वह सकते में आ गया उसने अपने मोहाइल को रिफ्रेश किया फिर भी उसे उसमें कोई बदलाव नजर नहीं आया। जब सब कुछ करने के बाद भी उसके मोबाइल से वह नोटिफिकेशन नहीं हट रहा था तो उसने पुलिस को कॉल किया इस बारे में सूचित किया हालांकि उसमें सही-सही लोकेशन पता नहीं चल रहा था।स्थानीय पुलिस जब वहां पर पहुंची तो उनके मोबाइल पर भी वही नोटिफिकेशन दिखाई दे रहा था। उन्होंने रात के समय में ही संभावित लोकेशन की जांच कर पता लगाने की कोशिश की लेकिन उनके हाथ कुछ नहीं लगा। इसके बाद आखिर में स्थानीय साइबरक्राइम की टीम और सुरक्षा एजेंसियों को इस बारे में सूचित किया गया।

जांच अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने सबसे पहले पास के संभावित इलाकों की जांच की। प्रारंभिक जांच के बाद कुछ लोकेशन को शॉर्टलिस्ट कर अगले दिन पुलिस ने उन-उन घरों में जाकर उनके वाई-फाई कनेक्शन की जांच की। इस बीच पुलिस ने स्थानीय इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर को कॉल कर इस बारे में सूचना प्रदान करने को कहा।

इसके बाद एक टेलीकॉम शॉपकीपर गुलशन तिवारी (60 वर्षीय) से पुलिस ने पूछताछ की उसने 26 नवंबर को एक वाई-फाई कनेक्शन लिया था। लखनऊ के रहने वाले तिवारी ने बताया कि इसमें कोई तकनीकी समस्या है जिसकी जानकारी उसे नहीं है। जांच में पता चला कि तिवारी के 25 वर्षीय बेटे ने वाई-फाई नेटवर्क का नाम हिजबुल रखा था।

उसने बताया कि पहले हमने अपने भाई के नाम से वाई-फाई नेटवर्क का नाम रखा था लेकिन उससे कई लोग अपना मोबाइल कनेक्ट कर लेते थे जिसके बाद मैंने फैसला किया कि इस बार कुछ ऐसा डरावना नाम रखूं कि किसी को भी हमारा वाई-फाई कनेक्ट करने की हिम्मत ना हो। हालांकि द्वारका डीसीपी ने कहा कि चूंकि किसी तरह कि संदिग्ध गतिविधि की पहचान नहीं हो पाई है इसलिए कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं किया जाएगा।

This post has already been read 7680 times!

Sharing this

Related posts