रामगढ़ की जनता ने तीनों विधायक और सांसद को लापता घोषित किया

-छावनी परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष के नेतृत्व में निकाली गई रैली

रामगढ़। रामगढ़ जिले के वरिष्ठ नागरिकों ने जनसमस्याओं से मुंह मोड़ने वाले तीनों विधायक और सांसद को लापता घोषित कर दिया है। शुक्रवार की शाम वरिष्ठ नागरिकों का एक दल शहर में रैली निकालकर इस बात का प्रचार करने लगा कि यहां के विधायक ममता देवी, अंबा प्रसाद, जयप्रकाश भाई पटेल और यहां तक की सांसद जयंत सिन्हा भी लापता हैं।

और पढ़ें : दुनिया पर ओमीक्रोन का ‘बहुत गंभीर’ खतरा : डब्ल्यूएचओ

उनके लापता की वजह उन्होंने यह बताई कि रामगढ़ की जनता की समस्या पर यह सारे जनप्रतिनिधि चुप्पी साधे हुए हैं। इन लोगों के द्वारा ना तो कोई पहल की जा रही है और ना ही रेल मंत्रालय पर दबाव बनाया जा रहा है। इन लोगों की चुप्पी की वजह से राजधानी एक्सप्रेस और चोपन एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें बरकाकाना रूट से बंद कर दी गई। यह समस्या सिर्फ रामगढ़ की जनता की नहीं है बल्कि, आसपास के चार जिलों के लोग रेल मंत्रालय के इस निर्णय से खफा हैं लेकिन जनता की नाराजगी और समस्या से विधायक और सांसद को कोई मतलब नहीं है।

छावनी परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष अनमोल सिंह के नेतृत्व में निकाली गई रैली में यह बताया गया कि जनता के लिए शायद अब कोई जनप्रतिनिधि बचा ही नहीं है। रैली के दौरान गरीब रथ बचाओ, राजधानी एक्सप्रेस वापस लाओ के नारे लगाए गए। अनमोल सिंह ने कहा कि रामगढ़ जिला एक औद्योगिक जिला है। यहां डीवीसी के द्वारा 12 घंटे तक बिजली कटौती की जा रही है। उद्योग धंधे, व्यापार, बच्चो की पढाई आदि प्रभावित हो रही है। इन परिस्थितियों से रामगढ के जन प्रतिनिधि अवगत होते हुए भी मौन साधे हुए हैं।

ज्यादा ख़बरों के लिए आप हमारे फेसबुक पेज पर भी जा सकते हैं : Facebook

रैली में इंद्रपाल सिंह सैनी, अमित साहू, परमजीत सिंह सैनी, पप्पू जस्सल, दीपक मिश्रा, रवि प्रसाद, मनजी सिंह, प्रदीप शर्मा, सुनील मालाकार, पवन करमाली, रियाद शायरी, उत्तम पासवान, अजय गुप्ता, लालू शर्मा, संतोष सिन्हा आदि शामिल थे।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें

This post has already been read 14268 times!

Sharing this

Related posts