इस वर्ष का अं‎तिम और दूसरा चंद्र ग्रहण लगेगा 19 नवंवर को…

ज्योतिष के अनुसार ये चंद्र ग्रहण वृष राशि और कृत्तिका नक्षत्र में लगेगा

नई दिल्ली। साल का अं‎तिम और दूसरा चंद्रग्रहण कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि 19 नवंबर शुक्रवार को लगने जा रहा है। बताया गया है कि ये आंशिक चंद्र ग्रहण होगा, जो भारत के असम और अरुणाचल प्रदेश में ही कुछ समय के लिए दिखाई देगा। इसके अलावा अमेरिका, उत्तरी यूरोप, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर क्षेत्र में इस चंद्र ग्रहण को देखा जा सकेगा।

और पढ़ें : एलन मस्क ने एक दिन में कमाए 51,263 करोड़, मुकेश अंबानी 100 अरब डॉलर क्लब से बाहर…

ज्योतिष के अनुसार ये चंद्र ग्रहण वृष राशि और कृत्तिका नक्षत्र में लगेगा। इस वजह से वृष राशि के जातकों के लिए यह अवधि समस्याकारक रह सकती है। भारतीय समयानुसार 19 अक्टूबर 2021 दिन शुक्रवार को सुबह 11:34 मिनट से चंद्र ग्रहण शुरू हो जाएगा, जो शाम 05:33 मिनट पर खत्‍म होगा। हालांकि भारत में ग्रहण का सूतक मान्य नहीं होगा, लेकिन धार्मिक मान्यता के अनुसार, ग्रहण के दौरान कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। सूतक काल में खाने-पकाने, पूजा-पाठ से परहेज करना चाहिए। इस दौरान भगवान का ध्यान करें।

वीडियो देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें : YouTube

ग्रहण के बाद स्‍नान जरूर करें। इस अवधि में गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। चंद्र ग्रहण के दौरान शिव आराधना करने से लाभ मिलता है। ज्योतिषाचार्य कहते हैं कि यह चंद्रग्रहण वृष राशि और कृतिका नक्षत्र में लगेगा। ये ग्रहण मुख्य रूप से पांच राशि वृष, कन्या, वृश्चिक, धनु व मेष राशि पर सबसे ज्यादा असर डालता हुआ दिख रहा है। वहीं अन्य राशियों पर भी इस चंद्र ग्रहण का असर दिखेगा। वृष राशि के जातकों को इस दौरान किसी से वाद-विवाद और फिजूल खर्ची से बचना चाहिए। इस राशि के जातक चंद्र ग्रहण के दौरान एकांत में रहकर प्रभु का नाम लें, तो उनके लिए उत्तम होगा।

This post has already been read 11327 times!

Related posts