एक्सआईएसएस राँची में मनाया गया संत इग्नेशियस लोयोला पर्व

रांची। ज़ेवियर समाज सेवा संस्थान (एक्सआईएसएस), रांची ने शनिवार को संत इग्नेशियस लोयोला का पर्व मनाया। संत इग्नेशियस की 500वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में 31 जुलाई को हर वर्ष यह पर्व मनाया जाता और इस वर्ष को इग्नेशन वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। संत इग्नेशस मन परिवर्तन की 500वीं सालगिरह लेकिन इस साल यह प्रत्याशित था।

दर्शकों का स्वागत डॉ प्रदीप केरकेट्टा एसजे, सहायक निदेशक, एक्सआईएसएस ने किया और उन्हें येशु समाज (जेसुइट्स) संस्थान के लक्ष्य के बारे में बताया जिनमें चार सामाजिक विषयों को बढ़ावा देने की बात मुख्य है। उन्होंने कहा, “इस वर्ष उत्सव को इग्नेशियस आध्यात्मिकता को बढ़ावा देने की प्राथमिकता की थीम को चुना गया है, जो आध्यात्मिक अभ्यास और समझ के माध्यम से लोगों को प्रभु का रास्ता दिखाता है। दूसरा, गरीबों और हाशिए पर लोगों का उत्थान करना और दुनिया के बहिष्कृत लोगों के साथ चलना है, उसपर महत्त्व दिया गया है।

तीसरा है, युवाओं की प्रतिभा और क्षमता को पहचानना और एक आशा भरे भविष्य के निर्माण में उनका साथ देना। और चौथा,अपने विश्व रूपी घर की देखभाल में सहयोग करना है और इनमें रहने वाले सभी जीव एवं निर्जीव की रक्षा करना हैं। ये विषय हमें बड़े पैमाने पर समाज के लिए काम करने और शांति और सद्भाव का भाव लाने के लिए सक्षम करने की और अग्रसर करने के लिए है। ”

इस पर्व का शुभारम्भ , एक भजन, ग्लोरिया नृत्य और बाइबल के उच्चारण के साथ हुआ। इस पवित्र कार्यक्रम की शुरुआत डॉ प्रदीप केरकेट्टा एसजे द्वारा संत इग्नेशियस लोयोला की स्मृति में बनाये एक ध्वज के ध्वजारोहण से किया गया। उसके बाद अन्य उत्सव जैसे ‘आरती’ नृत्य, बैंड प्रदर्शन और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए।

प्रार्थना सभा में डॉ प्रदीप केरकेट्टा एसजे के साथ फा जेवियर सोरेंग एसजे, फा क्लेबर मिंज एसजे, और फा समीर जेवियर भावनरा एसजे शामिल थे, जहाँ सबने प्रार्थना का नेतृत्व किया।

लोयोला के संत इग्नेशियस के रूप में सम्मानित, संत इग्नेशियस ने सोसाइटी ऑफ जीसस की स्थापना की, जिसे येशु समाज या जेसुइट्स भी कहा जाता है। कार्यक्रम में इग्नेशन आध्यात्मिकता किस प्रकार मानव शरीर को ज्ञान, विवेक और रहस्योद्घाटन के स्रोत के रूप में बढ़ावा देती है और पूरे विश्व को एक परिवार के रूप में देखती है इसका उल्लेख किया गया। और साथ ही अनुग्रह और सम्मान के साथ दुनिया की सेवा करने का भाव सिखाती है, यह भी कार्यक्रम के दौरान बताया गया।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें…

This post has already been read 3684 times!

Sharing this

Related posts