अब जीत के बाद धन्यवाद देने आऊंगा काशी : नरेंद्र मोदी

वाराणसी। वाराणसी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में 20 घंटे के अपने तूफानी चुनाव अभियान के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि अब वह जीत के बाद मतदाताओं का धन्यवाद देने काशी लौटेंगे। मोदी ने नगर में ऐतिहासिक रोड शो के जरिए चुनाव की फिजां बदल दी और कार्यकर्ताओं से संवाद भी किया। चुनाव प्रचार की आगे की जिम्मेदारी कार्यकर्ताओं को सौंपते हुए मोदी ने कहा, ‘आप कम किस्मत वाले हैं कि आपका उम्मीदवार नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद नदारद हो गया और मैं किस्मत वाला हूं कि मुझे आप जैसे कार्यकर्त्ता मिले हैं।’ नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद मोदी मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में चुनाव अभियान के लिए रवाना हो गए। चुनाव के अभी चार चरण बाकी हैं और इस सिलसिले में मोदी को देशभर में चुनाव सभाओं को सम्बोधित करना है। इस व्यस्तता के कारण वह अपने संसदीय क्षेत्र में समय नहीं दे पाएंगे। मोदी ने कार्यकर्ताओं से वादा लिया कि यदि वह चुनाव प्रचार के लिए दोबारा नहीं आ सके तो वह हर बूथ पर जीत सुनिश्चित करेंगे। हर बूथ के कार्यकर्ता स्वयं को नरेंद्र मोदी मान कर सक्रिय रहें। उन्होंने कहा कि वाराणसी का चुनाव कम से कम खर्च में चलाना चाहिए। चुनाव अभियान ऐसे अनोखे तरीके से चलाया जाना चाहिए कि राजनीतिक विश्लेषकों को इस पर पुस्तकें लिखनी पड़ें। मोदी ने कहा कि काशी का युद्ध रोड शो के जरिए हम पहले ही जीत चुके हैं। साथ ही उन्होंने कार्यकर्ताओं से अतिविश्वास से बचने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कुछ लोग यह कहने लगे हैं कि अब तो चुनाव में जीत पक्की है, हम वोट दें या न दें। उन्होंने कहा कि इस सोच से बचना चाहिए। चुनाव लोकतंत्र का हिस्सा है और इसमें बढ़-चढ़ कर भागीदारी करनी चाहिए। कार्यकर्ताओं से मोदी ने कहा कि वह जीतेंगे या नहीं इसकी चिंता मां गंगा कर लेगी, आपकी प्राथमिकता हर बूथ पर जीत हासिल होना चाहिए। वाराणसी के एकतरफा चुनावी परिदृश्य के बारे में उन्होंने कहा कि देश की मीडिया की दिलचस्पी नहीं रह गई है। उन्होंने वाराणसी के चुनाव की तुलना क्रिकेट वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के मैच से करते हुए कहा कि यह मैच ही प्रतियोगिता की जान होता है। यह मैच न हो तो प्रतियोगिता की रौनक नहीं रहती।

This post has already been read 8020 times!

Sharing this

Related posts