पलामू के मनातू जंगली क्षेत्र में हो रही पोस्ते की खेती, 8 एकड़ फसल को पुलिस ने नष्ट किया

पलामू। पलामू जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र मनातू थाना के बेटा पत्थर और छोटकी नागद गांव में बुधवार को मनातू पुलिस ने छापेमारी कर करीब 7 से 8 एकड़ में लगी पोस्ते के फसल को नष्ट कर दिया। मनातू थाना प्रभारी संतोष कुमार को गुप्त सूचना मिली थी कि बेटा पत्थर और छोटकी नागद गांव में पोस्ते के खेती की जा रही है। इसी सूचना पर पुलिस ने टीम गठित कर उक्त दोनों गांवों में छापेमारी कर 7 से 8 एकड़ में लगी पोस्ते के फसल को नष्ट कर दिया। थाना में
एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस पोस्ते की खेती करने वालों को चिह्नित कर रही है। मनातू थाना क्षेत्र पोस्ते के खेती करने वाले क्षेत्र सबसे आगे है। नक्सली सपोर्ट से लोग पोस्ते के खेती करने से बाज नहीं आ रहे हैं। पोस्ते की खेती करने के मामले में मनातू थाने में 60 से अधिक प्राथमिकी दर्ज की जा चुकी है, लेकिन आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। करवाई के नाम पर पुलिस सिर्फ पोस्ते की फसल को नष्ट कर देती है। पुलिस की उचित कार्रवाई नहीं होने के कारण पोस्ते की खेती करने वाले लोगों का मनोबल हमेशा बढ़ा रहता है।

This post has already been read 8413 times!

Sharing this

Related posts