Jharkhand : फरार महिला मानव तस्कर के खिलाफ NIA ने एक लाख का इनाम घोषित किया

Ranchi : राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने फरार महिला मानव तस्कर के खिलाफ एक लाख रुपए इनाम की घोषणा की है। एनआइए ने शनिवार को बताया कि इनाम की घोषणा सुनीता देवी पर की गई है। यह पहला मौका है जब झारखंड में किसी मानव तस्कर के ऊपर इनाम की घोषणा की गई है।

जल्द ही राज्य में शुरू होगा फ्लाइंग एकेडमी, एयर होस्टेस के प्रशिक्षण की भी होगी सुविधा,जाने पूरी खबर

उल्लेखनीय है कि सुनीता देवी जेल में बंद मानव तस्कर पन्ना लाल महतो की पत्नी है। सुनीता देवी खूंटी जिले के मुरहू की रहने वाली है। झारखंड में मानव पन्ना लाल के खिलाफ खूंटी की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट में छह अगस्त, 2018 को प्राथमिकी दर्ज की गई थी। एनआइए ने इसी प्राथमिकी को टेकओवर करते हुए दो मार्च, 2020 को मामला दर्ज किया है। एनआइए ने कांड संख्या 09/2020 में मोस्ट वांटेड घोषित किया है। इस मामले को लेकर एनआइए ने कांड संख्या 1/2020 दर्ज किया है।

क्या आप कभी गए हैं रंगरौली धाम! यहां होती है मुर्गे की बलि

गौरतलब है कि 18 जून, 2019 को खूंटी पुलिस ने पन्ना लाल को गिरफ्तार किया था। पति-पत्नी झारखंड और ओड़िशा से बच्चों की तस्करी करते थे। बच्चों को काम दिलाने के नाम पर बाहर ले जाकर बेचा जाता था। इसके लिए सुदूरवर्ती इलाकों के आदिवासी बच्चों और गरीब परिवार को निशाना बनाया जाता था। पन्ना लाल और उसकी पत्नी सुनीता देवी साल 2003 से ही मानव तस्करी कर रहे थे। मानव तस्करी कर पति- पत्नी ने लगभग 100 करोड़ की संपत्ति बनायी है।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें…

This post has already been read 11363 times!

Sharing this

Related posts