नाजिर घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार

बोकारो। बोकारो जिले के जरीडीह थाना क्षेत्र अंतर्गत अंचल कार्यालय में पदस्थापित बड़ा बाबू (नाजिर) कुमार गौतम को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी), धनबाद की टीम ने बुधवार को 14000 रुपये घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया। कुमार गौतम को बुधवार को एसीबी के पुलिस निरीक्षक जुल्फीकार अली ने दिनेश कुमार सिंह नामक परिवादी से जमीन मापी के एवज में रिश्वत लेते रंगेहाथ दबोचा। उसके बाद टीम अपने साथ उसे धनबाद ले गई। जैनामोड़ निवासी 48 वर्षीय दिनेश कुमार सिंह ने एसीबी को जमीन की मापी के लिए घूस मांगे जाने की जाने की शिकायत की थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार अपनी जमीन की मापी कराने के लिए दिनेश ने अंचल कार्यालय में आवेदन दिया था। इस संबंध में जब वह अंचल कार्यालय के बड़ा बाबू कुमार गौतम से मिले तो उनके नाम से आवेदन ले लिया और अगले दिन 19 फरवरी को उनसे मिलने को कहा गया। कुमार गौतम ने कहा कि वह अंचलाधिकारी से बात कर दिनेश को बता देंगे। अगले दिन जब दिनेश अंचल कार्यालय, जरीडीह पहुंचे तो कार्यालय बंद था। फोन से बात करने पर 20 फरवरी को पुनः दिनेश को अंचल कार्यालय बुलाया गया। दुबारा भेंट में बड़ा बाबू ने दिनेश को जमीन-मापी के एवज में 15 हजार रुपये का खर्च आने का हिसाब-किताब समझा दिया। कहा कि सीओ साहब सुरेंद्र कुमार के द्वारा एक डीड मापी पर 5000 रुपये, यानी दो डीड पर 10000 रुपये तथा अमीन शिवेंद्र कुमार ठाकुर को 3000 रुपये, ऑनलाइन इंट्री के लिए 1000 रुपये तथा ऑफिस-खर्च के लिए 1000 रुपये, कुल 15000 रुपए का खर्च आने की बात कही गयी। वादी द्वारा बड़ा बाबू कुमार गौतम से काफी मिन्नतें की गयीं और अंततः 14000 रुपये पर जमीन मापी की बात पर वह सहमत हुआ। परिवादी के लिखित आवेदन के आलोक में सत्यापनकर्ता के सत्यापन प्रतिवेदन के आधार पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने अपने यहां कांड संख्या- 5/19, दिनांक- 26.02.19 के तहत मामला दर्ज किया। इसके बाद सुनियोजित तरीके से मामले के प्राथमिकी अभियुक्त कुमार गौतम को अंचल कार्यालय स्थित उसके दफ्तर से पूर्वाह्न लगभग साढ़े 11 बजे रंगेहाथ दबोचा गया। वर्ष 2019 के लिए भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो, धनबाद की तीसरी गिरफ्तारी बताई जा रही है।

This post has already been read 7826 times!

Sharing this

Related posts