नदिया के पीठासीन अधिकारी रहस्यमय तरीके से लापता

कोलकाता। नदिया जिले में मतदान प्रक्रिया संपन्न कराने के लिए नियुक्त पीठासीन अधिकारी अर्णव रॉय रहस्यमय तरीके से लापता हो गए हैं। यहां आगामी 29 अप्रैल को मतदान होना है। उससे 11 दिन पहले ही रॉय घर से लापता हो गए हैं। चुनाव आयोग को सूचना दे दी गई है। परिवारवाले तमाम आशंकाओं के चलते परेशान हैं। गुरुवार को राज्य में दूसरे चरण का मतदान चल रहा था। उसी दौरान अर्णव रॉय घर के पास ही विप्रदास पाल चौधरी पॉलिटेक्निक कॉलेज गए थे। इससे पहले भी वह चुनाव प्रक्रिया से संबंधित कार्यों के लिए इस कॉलेज में जाते रहे हैं, लेकिन गुरुवार की दोपहर वह रहस्यमय तरीके से लापता हो गए। उनके दोनों मोबाइल फोन बंद हैं। देर रात तक जब रॉय नहीं लौटे तो परिजनों ने थाना कोतवाली में सूचना दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर चुनाव आयोग को अवगत करा दिया है। आयोग ने जिला प्रशासन को निर्देश दिया है कि किसी भी कीमत पर अर्णव राय की तलाश की जाए। शुक्रवार की सुबह भी परिवार, दोस्त और प्रशासनिक अधिकारी पीठासीन अधिकारी रॉय को खोजते रहे, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चला था। उल्लेखनीय है कि पिछले साल भी पंचायत चुनाव के दौरान रायगंज से एक पीठासीन अधिकारी राजकुमार रॉय लापता हो गए थे। दूसरे रोज उनका शव कई टुकड़ों में रेलवे लाइन के किनारे मिला था। उनकी हत्या की गई थी। फिलहाल, ताजा घटनाक्रम से चुनाव ड्यूटी में लगे कर्मचारी और अधिकारी डरे-सहमे हुए हैं। चुनाव आयोग ने आश्वासन दिया है कि उन्हें उचित सुरक्षा दी जाएगी।

This post has already been read 7774 times!

Sharing this

Related posts