महिलाओं के बिना पुरुष आगे नहीं बढ़ सकता : लुईस मरांडी

दुमका । महिलाएं जगत जननी हैं। महिलाएं नहीं होती तो, सृष्टि नहीं होती। इसलिए सभी को सृष्टि निर्माता का सम्मान करना चाहिए। महिलाओं के बिना पुरुष आगे बढ़ नहीं सकते। वरन सृष्टि के निर्माण दो वर्गों में नहीं बांटते। मानव जीवन साईकिल के दो पहिए के समान हैं। किसी एक पहिया के पंक्चर होने से जीवन रूपी साईकिल आगे नहीं बढ़ सकती है।
शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर समाज कल्याण मंत्री डॉ लुईस मरांडी ने एनएसएस गर्ल्स बटालियन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अक्सर लोग बोलते हैं कि महिलाएं कमजोर होती हैं, महिलाएं दूसरे पर निर्भर रहती हैं। लेकिन यह कार्यक्रम संपन्न करवाने वाली 99 फीसदी महिलाएं ही है। महिलाएं किसी से कम नहीं है। अपने आप में आत्मविश्वास जागृत करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि छात्र हो या समाज का कोई अन्य वर्ग, जिसके हिस्से में जो जिम्मेदारी है, ईमानदारीपूर्वक समय का सदुपयोग करेंगे तो कोई किसी से पीछे नहीं होगा।
इससे पहले एकलव्य आवासीय बालिका विद्यालय, काठीजोड़िया की एनसीसी कैडट्स ने रैली निकाली। यह रैली टाटा शोरूम चौक से शुरू होकर टीन बाजार चौक, वीर कुंवर सिंह चौक होते हुए विवेकानंद चौक पर पहुंचकर समाप्त हुई। रैली का नेतृत्व एनसीसी एसोसिएट ऑफिसर सुमिता सिंह कर रही थी।

This post has already been read 8215 times!

Sharing this

Related posts