राजीव कुमार के खिलाफ अभियुक्त के रूप में कार्रवाई कर सकती है सीबीआई

नई दिल्ली। सारदा चिटफंड मामले की जांच को लेकर पश्चिम बंगाल में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) व पश्चिम बंगाल पुलिस के बीच मचे घमासान के बीच कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से सीबीआई की पूछताछ शिलांग में कल खत्म हो गई। लेकिन सीबीआई सूत्रों के मुताबिक राजीव कुमार के खिलाफ सीबीआई अब अभियुक्त के रूप कार्रवाई करेगी। हालांकि सोमवार को यह जानकारी भी मिली थी कि कुमार ने सबूत के साथ छेड़छाड़ के आरोप में अपने सहयोगियों को भी लपेट लिया।
इस बीच सेवानिवृत आईपीएस अधिकारी अमोद कंठ ने भी कहा है कि सीबीआई को राजीव कुमार के गतिविधियों पर संदेह था| इसलिए वह उनको नोटिस देकर दो-तीन बार बुलाया गया| लेकिन जब वह पेश नहीं हुए तो फिर सीबीआई ने उनके खिलाफ कार्रवाई की। कंठ यहीं नहीं रुके। उन्होंने तो यहां तक कहा कि इस मामले में मुख्यमंत्री के नाम की चर्चा भी कई बार हो चुकी है। फिर पुलिस कमिश्नर की ओर से सीबीआई की कार्रवाई में बाधा पहुंचाने से राजीव कुमार की इस मामले में पाक साफ होने पर संदेह को दर्शाता है। कंठ ने अपने कार्यकाल में सीबीआई ने भी काम किया था।
उल्लेखनीय है कि सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट से भी कहा था कि कुमार ने मामले के सबूतों के साथ छेड़छाड़ किया है। जम्मू-कश्मीर पुलिस की ओर से पश्चिम बंगाल पुलिस को सौंपी गई सीडीआर (काल डाटा रिकार्ड) से भी छेड़छाड़ गई।
सारदा चिट फंड मामले के मुख्य आरोपित सुदिप्त सेन की गिरफ्तारी कश्मीर में की गई थी और उस वक्त वहां की पुलिस ने बंगाल पुलिस को कई सबूत सौंपे थे लेकिन बंगाल पुलिस की इस मामले में गठित विशेष टीम ने उन सभी सबूतों को आरोपित को वापस कर दिया जबकि उन सबूतों को जांच के लिए भेजा जाना था।
हालांकि इस मामले में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अब भी चुप हैं। अपने पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से सहानुभूति दिखाने के लिए वह उनके आवास पर पहु्ंच गई थीं और सीबीआई की कार्यवाही में रोड़ा अटकाया था। यहां तक कि राज्य पुलिस ने तो सीबीआई अधिकारियों को ही हिरासत में ले लिया था लेकिन केंद्रीय गृह सचिव की ओर से राज्य के मुख्य सचिव व पुलिस महानिदेशक से संपर्क किए जाने पर उन्हें छोड़ा गया। बाद में कोलकाता के सभी केंद्र सरकार के कार्यालयों पर सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ कर्मियों को लगा दिया गया था।

This post has already been read 5571 times!

Sharing this

Related posts