ग्राहकों को इन 3 बैंकों के बचत खातों पर मिलेगा ज्यादा ब्याज, नई दरें लागू

नई दिल्ली. एचडीएफसी (HDFC) बैंक (Bank) के ग्राहकों के लिए अच्छी खबर है, बैंक के ग्राहकों को बचत खातों पर अधिक ब्याज मिलेगा. बैंक ने कहा कि ब्याज की गणना धारक के खाते में दैनिक शेष राशि पर की जाएगी. हालांकि इसका भुगतान तिमाही आधार पर किया जाएगा. 2 फरवरी 2022 से प्रभावी, एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) 50 लाख रुपये से कम की शेष राशि वाले बचत खातों पर 3 प्रतिशत ब्याज दर देगा. 2 फरवरी 2022 से प्रभावी है, खाते में 50 लाख रुपये से अधिक और 1,000 करोड़ रुपये से कम की शेष राशि पर बैंक 3.50 प्रतिशत ब्याज दर देगा. 1,000 करोड़ रुपये से अधिक खाते में हो तो शेष राशि पर 4.50 प्रतिशत की ब्याज दर मिलेगा.
एचडीएफसी बैंक ने एक बयान में कहा कि संशोधित दरें घरेलू, एनआरओ और एनआरई बचत खातों पर लागू होंगी.

advt.

पंजाब एंड सिंध बैंक (Punjab & Sindh Bank) ने भी 1 फरवरी से प्रभावी बचत बैंक जमा पर अपनी ब्याज दरों में बदलाव किया है. बैंक अब 10 करोड़ रुपये से कम के बचत खाते की शेष राशि पर 3 प्रतिशत ब्याज दर देगा. इस बीच 10 करोड़ रुपये और उससे अधिक के खाते की शेष राशि के लिए, दर को संशोधित कर 3.20 प्रतिशत कर दिया गया है.
पीएनबी ने भी किया बदलाव
पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) ने घरेलू और एनआरआई बचत खातों पर ब्याज दरों में 5 आधार अंकों की कटौती की है. बैंक ने सेविंग फंड अकाउंट में 10 लाख रुपये से कम की शेष राशि पर 2.80 प्रतिशत की ब्याज दर ऑफर किया था जो अब 2.75 प्रतिशत होगी. 10 लाख रुपये और 500 करोड़ रुपये से कम के खाते के शेष के लिए पीएनबी 2.85 ब्याज दर दे रहा था, जिसमें बदलाव के बाद 3 फरवरी, 2022 तक 2.80 प्रतिशत कर दिया गया है. बैंक बचत निधि खाते में 500 करोड़ रुपये और उससे अधिक की शेष राशि पर 3.25 प्रतिशत ब्याज दर देगा.

This post has already been read 10791 times!

Sharing this

Related posts