एक ट्रेंड बन गया है हेयर वेक्सिंग कराना, जाने इसकी विधियां…

इन दिनों यंग्स्टर्स में अपनी बॉडी को खूबसूरत व आकर्षक दिखाने के लिए शरीर के कई अंगों की हेयर वेक्सिंग कराना एक ट्रेंड हैं। इसके लिए कई तरह की टेक्नीक्स इस्तेमाल की जाती हैं। खासकर लड़कियों में इसका खासा क्रेज देखा जाता है। इनमें से कुछ विधियां काफी दर्द देने वाली और जटिल भी होती हैं। आमतौर पर लड़कियां अपने अंडर आर्म्स और प्राइवेट पार्ट्स की हेयर रिमूविंग पर खास ध्यान देती हैं। इसके अलावा बिकनी वैक्स का ट्रेंड जोरों पर है। लड़कियां बिकनी लाइन के बालों को हटाने के लिए वैक्सिंग और शेविंग का सहारा लेती हैं। लेकिन आपको बता दें, इन सभी चीजों से संक्रमण का खतरा पैदा होने का डर रहता है।

रीसर्च में हुआ खुलासा…

हाल ही में जामा डर्मेटॉलॉजी ऑफ जरनल में एक अध्ययन दिया गया था। एक शोध में इस बात का पता चला है जो महिलाएं अक्सर बिकनी वैक्स कराती हैं। उनमें सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसीज (एसटीजी) होने का खतरा होता है। रीसर्च में निष्कर्ष निकाला गया कि प्यूबिक हेयर हटाने के दौरान वायरस या बैक्टीरिया शरीर के अंदर चले जाते हैं। अध्ययन के मुताबिक, महिलाओं में प्यूबिक हेयर को सजाने और संवारने का चलन तेजी से बढ़ रहा है। लेकिन वेक्सिंग की यह प्रक्रिया सुरक्षित नहीं है। लेकिव वैक्सिंग सुंदरता पाने का सुरक्षित तरीका नहीं है। दरअसल, वैक्सिंग से त्वचा और उसके अंतर्निहित संरचनाओं को नुकसान पहुंचता है। स्टडी में ये भी पाया गया कि दूषित वैक्सिंग टूल के जरिए बैक्टीरिया ट्रांसफर होते हैं। साथ ही ये बात भी सामने आई कि प्यूबिक हेयर वैक्सिंग करने स्किन जलने का भी एक कारण होता है।

सावधानियां…

-बैक्टिरियल इंफेक्शन से बचने के लिए वैक्सिंग करते समय इस्तेमाल किया जाने वाले टूल्स का साफ होना बहुत जरूरी है।

-अगर आप वैक्सिंग के बाद टाइट कपड़े पहनेंगी तो जलन-सूजन जैसी परेशानी भी हो सकती है। अच्छा होगा कि वैक्स के बाद कॉटन के इनरवेयर या फिर ढीले-ढाले कपड़े पहनें।

-पीरियड्स से पहले ब्राजीलियन वैक्सिंग कराने से बचें।

-ध्यान रखें कि आप जिस पार्लर में जाती हैं वह साफ-सुथरा हो और वैक्सिंग करने वाली ब्यूटी एक्सपर्ट के हाथ साफ हों। उसे कि सी तरह का इंफेक्शन न हो।

-वैक्स का तापमान सही होना चाहिए वरना यह स्किन को जला भी सकता है। वैक्स से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि स्ट्रिप्स नई हों। इसके अलावा कॉटन के साथ फर्स्ट एड किट और ऐंटिसेप्टिक भी वहां पास में होने चाहिए।

-वैक्सिंग पूरी होने के बाद स्किन साफ कपड़े या नैपकिन से पोछें।

-स्किन सूखने पर कॉटन के या फिर ढीले-ढाले कपड़े पहनें। इसके तुरंत बाद नहा लें।

-टावल से पोछने के बाद कम से कम 24 घंटों के लिए ढीले कपड़े पहनें।

This post has already been read 7119 times!

Sharing this

Related posts