श्रीलंका में धमाकों के मामले में 16 और गिरफ्तार, अब तक कुल 76 धरे गए

कोलंबो। श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर गिरजाघरों और होटलों को निशाना बनाकर किए गए आत्मघाती हमलों और सिलसिलेवार धमाकों के संबध में अन्य 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और इसके साथ ही गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या 76 हो गई है। द्वीप राष्ट्र में अभी तक के इन सबसे घातक हमलों में 359 लोगों की जान चली गई थी और अन्य 500 लोग घायल हुए हैं। सेना की मदद के साथ श्रीलंकाई अधिकारियों का तलाश अभियान जारी है। जांच अधिकारी गिरफ्तार किए गए लोगों से हमलों के सिलसिले में पूछताछ कर रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों में से कई के नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) के साथ संदिग्ध संबंध हैं। हालांकि एनटीजे ने हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है। इस्लामिक स्टेट ने इन हमलों की जिम्मेदारी लेते हुए हमले को अंजाम देने वाले आत्मघाती हमलावरों की पहचान भी की है। अधिकारियों ने तलाश अभियान में पुलिस की मदद के लिए हजारों सैनिकों को तैनात किया है। देश में करीब 5000 सैनिक तैनात हैं। सैन्य प्रवक्ता ब्रिगेडियर सुमित अटापट्टू ने कहा, ‘‘पिछले 24 घंटे में, कोई बड़ी घटना नहीं हुई है। हमने 6300 सैनिक तैनात किए हैं। इनमें वायुसेना के 1000 और नौसेना के 600 सैनिक शामिल हैं।’’ इस बीच, पुगोडा में मजिस्ट्रेट अदालत के पीछे एक मामूली विस्फोट हुआ। विस्फोट में तत्काल किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

This post has already been read 5434 times!

Sharing this

Related posts