व्यवसाय में घाटे से परेशान युवक ने की आत्महत्या

रामगढ़। व्यवसाय में घाटे से परेशान एक युवा व्यवसायी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। रांची के रहनेवाले इस युवक ने अपनी ससुराल रामगढ़ में खुदकुशी की है। एमएमटी ग्राउंड के पास रांची जिले के हरमू निवासी विजय अग्रवाल के पुत्र विकास अग्रवाल (28) ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मंगलवार सुबह शव उसके किराए के फ्लैट से बरामद किया। बताया गया कि रांची में उसका अच्छा व्यापार चल रहा था। उसके पास एक नामी ब्रांड की एलईडी की एजेंसी थी। व्यापार बढ़ाने के लिए उसने दूसरे जिलों में काम फैलाना शुरू किया था। लेकिन इसी कोशिश में व्यापार में उसे अचानक भारी घाटा हुआ और उसे सड़क पर लाकर रख दिया था। इसके बाद उसकी आर्थिक स्थिति काफी बिगड़ गयी। एक सप्ताह पहले ही उसने एक प्राइवेट इलेक्ट्रॉनिक दुकान में नौकरी शुरू की थी। लेकिन मंगलवार सुबह विकास का शव फांसी के फंदे पर लटकता मिला। इस बारे में उनकी पत्नी सरिता कुछ भी कह नहीं पा रही थीं। सरिता को अपने दोनों बच्चों की परवरिश की चिंता है। अभी दो महीने उनका दूसरा बच्चा पैदा हुआ था। विकास के सालेे मुकेश अग्रवाल ने बताया कि विकास का यह कदम उसकी समझ से परे है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

This post has already been read 6190 times!

Sharing this

Related posts