Deoghar : कृषकों को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने के उद्देश्य से आपसी समन्वय बनाते हुए करें कार्यः मंजूनाथ भजंत्री

Jharkhand : उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में कृषि, पशुपालन, सहकारिता एवं भू-संरक्षण विभाग से सबंधित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा बैठक का आयोजन समाहरणालय सभागार में किया गया। इस दौरान उपायुक्त ने केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के तहत किये जा रहे कार्यों की वास्तुस्थिति से अवगत हुए। साथ हीं विभिन्न योजनाओं के तहत धीमी गति से चल रहे कार्यों पर रोष प्रकट करते हुए संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि योजनाओं का प्रचार-प्रसार व्यापक व जमीनी स्तर पर किया बेहतर तरीका से कराया जाय, ताकि अधिक से अधिक योजनाओं का लाभ किसानों को मिल सके।

झारखंड के चाणक्य सरयू राय का दूसरा मास्टर स्ट्रोक

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने वित्तिय वर्ष- 2017-18, 2019-20 में मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनाये जाने एवं उनके वितरण के कार्य के अद्यतन स्थिति से अवगत हुए एवं वितीय वर्ष 2021-22 के तहत लक्ष्य के अनुरूप जल्द से जल्द कार्य को पूर्ण करनें का निदेश संबंधित अधिकारियों को दिया। साथ हीं उन्होंने कृषि सिंचाई योजना की समीक्षा करते हुए जिला कृषि पदाधिकारी को निदेश दिया कि उपायुक्त स्तर से विभागीय सचिव को पत्राचार के माधयम से योजना के क्रियान्वयन में एजेंसी द्वारा की जा रही देरी से अवगत कराते हुए आवश्यक कार्रवाई करें, ताकि कृषि सिंचाई योजना से जल्द से जल्द किसानों को लाभान्वित किया जा सके।

कृषि यांत्रिकी वितरण के कार्याें में तेजी के साथ-साथ लाए पारदर्शिता- उपायुक्त….
उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जिला भूमि संरक्षण विभाग द्वारा किये जा रहे कार्यों की विस्तृत समीक्षा करते हुए किन-किन योजनाओं के तहत जिले में किसान समूहों को कृषि यंत्र का वितरण किया जा रहा है। साथ हीं उपायुक्त ने जिला भूमि संरक्षण पदाधिकारी को निदेशित किया कि कृषि यंत्रिकी के वितरण में पारदर्शिता के अलावा किसान समूहों को प्राथमिकता दिया जाय एवं जो योग्य लाभुक हैं उन्हें योजना के लाभ से लाभान्वित किया जा सके।

जिले को दूध का हब बनाने हेतु उपायुक्त ने जिला पशुपालन पदाधिकारी को दिया आवश्यक दिशा निर्देश….
इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने पशुपालन विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं का समीक्षा करते हुए बकरा विकास योजना एवं सुकर विकास योजना के तहत लाभुको को डीबीटी के माध्यम से राशि भेजे जाने कार्याे की जानकारी से अवगत हुए। साथ हीं उपायुक्त ने देवघर जिले को दूध का हब बनाने के उदेश्य से जिला कृषि पदाधिकारी को निदेशित किया गया कि एक सफ्ताह के अंदर 3 से 4 गांवों को चिन्हित कर उपायुक्त कार्यालय को प्रतिवेदन उपलब्ध कराए। जिसके पश्चात आगे की कार्रवाई करते हुए देवघर जिला को दूध का हब बनाते हुए दही, खोवा, पनीर, ताजा दूध, एवं दूध से बनाये अन्य उत्पादों के मामले में देवघर को आत्मनिर्भर बनाया जा सके, ताकि श्रावणी मेला में जब खोवा की मांग अधिक रहती हैं तब बाहर से हमे खोवा, पनीर नही मंगाना पड़े।

अवैध महुआ शराब बंदी के आवेदन देने पर बड़कागांव थाना प्रभारी को आया गुस्सा

आगे उपायुक्त द्वारा जिले बन रहे कोल्ड स्टोरेज एवं सोलर आधरित कोल्ड स्टोरेज के कार्याे के अद्यतन स्थिति से अवगत हुए साथ ही संबंधित अधिकारी को निदेश दिया कि कार्य को गुणवत्तापूर्ण तरीके से तय समय के अनुरूप पूर्ण करें। बैठक के माधयम से उपायुक्त द्वारा जिला कृषि पदाधिकारी से कृषक पाठशाला, किसान मेला, एक्सपोज़र विजिट आदि के तहत चल रहे कार्याे की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें

This post has already been read 19496 times!

Sharing this

Related posts