वानी ग्रुप का इकलौता बचा आतंकी लतीफ टाइगर दो साथियों समेत ढेर

  • शोपियां मुठभेड़ में एक जवान घायल, सैन्य अस्पताल में भर्ती
  • हिंसक झड़पें शुरू, दक्षिण-कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवा स्थगित

शोपियां। जिले के इमाम साहिब क्षेत्र के अदकहारा इलाके में शुक्रवार की सुबह सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया है जबकि इस दौरान सेना का एक जवान भी घायल हुआ है। इस मुठभेड़ बुरहान वानी ग्रुप का इकलौता बचा आतंकी लतीफ टाइगर अपने दो साथियों के साथ मारा गया है। प्रशासन ने मुठभेड़ के दौरान हिंसक झड़पों की संभावना के चलते पूरे दक्षिण-कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी है। इमाम साहिब क्षेत्र के अदकहारा इलाके में शुक्रवार की सुबह आतंकियों के छिपे होने की सूचना सुरक्षाबलों को मिली थी। इस आधार पर सेना, पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने क्षेत्र की घेरबंदी कर तलाशी अभियान चलाना शुरू किया, लेकिन एक मकान में छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों को देखते ही गोलीबारी शुरू कर दी। जवाब में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया। इस दौरान सेना का एक जवान भी घायल हो गया। घायल को सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मुठभेड़ के दौरान एक रिहायशी मकान पूरी तरह से नष्ट हो गया है जबकि दो को क्षति पहुंची है। मारे गए तीनों आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन आतंकी संगठन से संबंधित हैं। इनकी पहचान डोगरीपोरा पुलवामा निवासी लतीफ अहमद डार उर्फ़ टाइगर, मुलू चित्रगम निवासी तारिक मोलवी और चोतिगम शोपियां निवासी शारिक अहमद नेग्रो के रूप में हुई है। इनमें तलीफ टाइगर 2014 से कश्मीर घाटी में आतंकी घटनाओं में सक्रिय था। प्रशासन ने मुठभेड़ के दौरान हिंसक झड़पों की संभावना के चलते पूरे दक्षिण-कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी है। तीन आतंकियों को मुठभेड़ में ढेर किये जाने की खबर क्षेत्र में फैलते ही स्थानीय युवा सड़कों पर उतर आए और सुरक्षाबलों पर पथराव व प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले दागे तथा बल प्रयोग किया जिसके बाद झड़पें शुरू हो गईं। इन झड़पों में एक प्रदर्शनकारी घायल हो गया है।उसे जिला अस्पताल ले जाया गया है।

This post has already been read 8841 times!

Sharing this

Related posts