50 करोड़ दो, 72 घंटे में मरवा दूंगा मोदी को; जाम छलकाते बर्खास्त BSF जवान तेज बहादुर का

ok Sabha Election 2019 में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के खिलाफ गठबंधन (सपा) के टिकट से वाराणसी से चुनौती देने की तैयारी में लगे बीएसएफ से बर्खास्त जवान तेज बहादुर (Tej Bahadur) का नया कारनामा सामने आया है। कुछ तकनीकी कारणों से मोदी के सामने समाजवादी पार्टी प्रत्याशी बनने से रह गए BSF से बर्खास्त तेज बहादुर यादव का इन दिनों दो वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

एक वायरल वीडियो में बीएसएफ से बर्खास्त तेज बहादुर यादव अपने साथियों के साथ शराब पीते नजर आ रहा है। दूसरे वायरल वीडियो में तेज बहादुर यादव व उसके साथी 50 करोड़ रुपये मिलने पर पीएम नरेंद्र मोदी को 72 घंटे के अंदर मारने की बात कह रहे हैं।

वीडियो के वायरल होते ही समाजवादी पार्टी तेज बहादुर के बचाव में उतर आई तो दूसरी तरफ बर्खास्त फौजी तेज बहादुर ने शराब पीने की बात तो स्वीकार की लेकिन पचास करोड़ में पीएम मोदी को जान से मारने के मामले को साजिश करार दिया।

तेज बहादुर ने बताया कि वीडियो दिल्ली पुलिस के सिपाही पंकज शर्मा ने वायरल किया है और वीडियो भी उन्हीं के घर का है, अब ये इतनी नीचता पर उतर आए हैं, किसी का सहयोग करो वही पीठ में छुरा भोंक रहे हैं। दूसरे मनोहर लाल हैं, जिनके बुरे समय में मैंने मदद की, आज ये हमें ब्लैकमेल करना चाह रहे हैं। तेज बहादुर ने कहा कि जितने वीडियो बनाना है बना लो हमें किसी का डर नहीं है, क्योंकि हम अपनी जगह सही हैं।

तेज बहादुर ने पहले तो कहा कि दो साल पुराना वीडियो है जो उसके ही दगाबाज मित्रों ने चुपके से शूट किया था फिर दावा किया कि यह भाजपा की आइटी सेल की करतूत है। वीडियो में एडिटिंग की गई है। इसकी शिकायत दर्ज कराने के साथ ही जांच कराएंगे कि ऐसा किसने किया है। तेज बहादुर ने कहा कि निजी पलों से जुड़ा दो साल पुराने वीडियो को प्रचारित करना विरोधियों की हताशा दर्शा रहा है।

चुनाव का दौर है, अभी विरोधियों की ओर से और भी वीडियो वायरल किए जा सकते हैं। सपा गठबंधन की ओर से तेजबहादुर ने पार्टी सिंबल पर नामांकन किया था। तेज बहादुर को बीएसएफ से बर्खास्तगी क्लॉज को लेकर नोटिस दी गई और बाद में पर्चा खारिज हो गया था। इसके बाद से वे सपा की ओर से पार्टी प्रत्याशी शालिनी यादव का प्रचार कर रहे हैं।

साथी संग जाम लड़ा रहे थे

एक वीडियो क्लिप में तेज बहादुर दिल्ली पुलिस के सिपाही पंकज व कुछ अन्य लोगों के साथ शराब पीते नजर आ रहा है।

भारत में कोई नहीं देगा, पाकिस्तान में दे देगा

दूसरे वायरल वीडियो क्लिप में पंकज और उसके साथी फौजी से पूछ रहे कि तुम्हे पचास करोड़ मिलेंगे तो क्या मोदी को मरवा दोगे। बर्खास्त फौजी की तरफ से जवाब मिलता है कि पचास करोड़ मिलेगा तो 72 घंटे में मोदी को मरवा देगा। उसके साथी कहते हैं कि मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं। सवा सौ करोड़ लोगों के प्रधानसेवक हैं। भारत में तो कोई देगा नहीं पचास करोड़, पाकिस्तान में मिल जाएगा। एक साथी इसी दौरान दिल्ली के सीएम केजरीवाल से भी संपर्क करने की बात कहता है।

सोशल मीडिया में इस वीडियो को लाखों लोग देख चुके हैं और इस मामले में सियासत भी गर्मा गई है। भाजपा के प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने इस मामले में हैरानी जताई है। नरसिम्हा राव ने कहा-समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी तेज बहादुर यादव के बयानों से स्तब्ध हूं। सपा ने उन्हें वाराणसी से पेश किया था। हमलोग टीवी पर देख सकते हैं कि किस तरह वह 50 करोड़ रुपए के एवज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने की इच्छा जता रहे हैं।

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे इस वीडियो में तेज बहादुर यादव अपने कुछ दोस्तों के साथ बैठे नजर आ रहे हैं। तेज बहादुर यादव कुछ खा रहे होते हैं और तभी उनके सामने बैठा हुआ शख्स बोलता है कि एक सिपाही को इतनी नॉलेज नहीं हो सकती। तभी तेज बहादुर यादव बोलते नजर आते हैं।

This post has already been read 6426 times!

Sharing this

Related posts