नन्हें बच्चों का रोमांचक शो है ‘सबक देगी नानी-2’

मुंबई। आज के आधुनिक दौर में बच्चों पर नज़र रखना बहुत जरूरी हो गया है क्योंकि वे पाश्चाज्य संस्कृति के प्रभाव में हैं और ऐसे ही माहौल में उनका बचपन बीत रहा है। दादा-दादी, नाना-नारी की कहानियों से वे दूर होते जा रहे हैं इसलिए उनके लिए एक ऐसा माहौल तैयार करना बहुत जरूरी है ताकि उन्हें भारतीय संस्कृति और परंपरा का ज्ञान हो और देसी रिवाज़ों के साथ वे आगे बढ़ें। लंदन स्कूल ऑफ जर्नलिज्म की स्टूडेंट रह चुकी किरन अग्रवाल ने इन स्थितियों को समझा और प्रोड्यूसर और कंटेंट मेकर के तौर पर एक नए प्लेटफॉर्म पर आ गईं, जहां उन्होंने बच्चों के लिए एक अलग दुनिया बसाई है। ऐसी दुनिया, जहां बच्चों का मनोरंजन भी हो और वे कुछ सीखते भी रहें। दरअसल, हम बात कर रहे हैं किरन अग्रवाल के शो ‘सबक देगी नानी—2 के बारे में, जो यूट्यूब पर वोका यानी वर्ल्ड ऑफ किरन अग्रवाल के तहत दिलचस्प कहानियों के साथ प्रस्तुत हो रहा है। खास बात यह है कि इसके सभी किरदार एनिमेटेड हैं। शो के पहले सीज़न में किरण ने 24 कहानियां प्रस्तुत की थीं जिसकी दर्शक संख्या बीस लाख तक पहुंच गई थी। पहले सीज़न की सफलता से उत्साहित होकर ही दूसरा सीज़न लाया गया है, जो बेहद लोकप्रिय हो रहा है। किरन अग्रवाल कहती हैं कि हम ‘सबक देगी नानी सी़ज़न 2’ के साथ आ गए हैं, जो पहले सीज़न के मुकाबले बड़ा और रोमांचक है। सीज़न 2 हिंदी और अंग्रेज़ी में है। इस सीज़न में हम प्यारे और मन को लुभाते जंगल के कैरेक्टर्स दिखाएंगे और हर एपिसोड अपने आप में बच्चों को लुभाएगा। अपने शो के बारे में किरन कहती है कि संयुक्त परिवार सिस्टम का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि यहां नानी दादी द्वारा बच्चों को संस्कार दिए जाते हैं। मैंने पत्रकारिता का कोर्स किया है साथ ही मनोरंजन की दुनिया का भी हिस्सा रही हूं। यानी मुझे बाहरी दुनिया को करीब से देखने का मौका मिला है। मैंने देखा कि टूटते परिवारों की वजह से बच्चों को सहना पड़ जाता है। आज के अभिभावकों के पास इतना समय नहीं कि वे अपने बच्चों के साथ ढंग से समय बिताए व उन्हें कहानियां सुनाएं। यहीं से मुझे कहानियों पर आधारित शो बनाने का ख्याल आया और इसका नाम रखा ‘सबक देगी नानी’।

This post has already been read 10518 times!

Sharing this

Related posts