साक्ष्य मिटाने के लिए घर से दूर शव गाड़ दिया गया था

Simadega : सिमडेगा पुलिस ने पत्नी की हत्या के आरोप में पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। परिजनों के आगे आने पर शव को कब्र से निकाल कर शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा गया। एसपरी डॉ शम्स तबरेज ने मंगलवार को बताया कि जगदीश गंगेश्वर (38) ने आपसी झंझट को लेकर पत्नी के साथ मारपीट कर उसकी हत्या कर दी थी। प्रखंड के लोंबोई करमापानी गिरजाटोली गांव जाकर पुलिस प्रशासन द्वारा मजिस्ट्रेट सीओ खगेन महतो की उपस्थिति में कब्रिस्तान से बासमती देवी के शव को निकालकर उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा दिया गया।

और पढ़ें : केवल दवा से शुगर ठीक करना मूर्खता होगा,गम्भीर डायबिटीज़ का इलाज सम्भव है

शुक्रवार की रात करमापानी गिरजाटोली निवासी जगदीश गंगेश्वर की पत्नी बांसमती देवी की मौत हो गयी थी। शनिवार को किसी को भी सूचना दिये बगैर शव को दफना दिया गया था। इस मामले में बासमती देवी के पिता टिनगिना इंदटोली निवासी सहरू साय द्वारा जलडेगा थाना में मामला दर्ज कराया गया था। आरोप लगाया लगाया गया था कि उनकी बेटी बासमती देवी की हत्या की गई है। फांसी का शक्ल देकर आत्महत्या करने का रूप दिखाया जा रहा है, जिसके बाद पुलिस ने मंगलवार को यह कारवाई की।

इसे भी देखें : विराट और विराज, उम्र 7 साल, कारनामा , इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज

मृतका के पति जगदीश गंगेश्वर को कड़ी पूछताछ के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। एसपी डॉ शम्स तबरेज ने बताया कि साक्ष्य मिटाने के लिए घर से दूर शव गाड़ दिया गया था। मृतका की पति से गहन पूछताछ के बाद व टूट गया। उसकी निशानदेही पर नदी के किनारे से कब्र से बांसमती देवी के शव को निकाला गया। सपी ने बताया कि हत्या के आरोपी पति को जेल भेज दिया गया।

This post has already been read 2909 times!

Related posts