सुकुरहुट्टू पंचायत करेगा वोट बहिष्कार, सभी नेताओं को करना पड़ रहा विरोध का सामना

रांची : रांची के सुकुरहुट्टूवासी किसी को भी बख्शने के मूड में नहीं है. मुख्यमंत्री और स्थानीय विधायक के सामने रोड नहीं तो वोट नहीं का नारा लगाने वालों ने 1 दिन पहले निवर्तमान सांसद और निर्दलीय प्रत्याशी रामटहल चौधरी का भी विरोध किया. ग्रामवासियों ने एकमत होकर निर्णय लिया है, इस बार वह वोट का बहिष्कार करेंगे.

रांची के कांके प्रखंड के सुकुरहुट्टू पंचायत का साहू टोला इन दिनों खबरों की सुर्खियों में है. 3 महीने पहले स्थानीय विधायक जीतू चरण राम का विरोध किया. उन्होंने 2 महीने में सड़क बनाने का आश्वासन दिया, जो पूरा नहीं हुआ. पंचायतवासियों का आक्रोश आसमान पर था, जब मुख्यमंत्री के साथ विधायक जीतू चरण राम पदयात्रा के लिए साहू टोला पहुंचे तो ग्रामवासियों ने मुख्यमंत्री के सामने रोड नहीं तो वोट नहीं का नारा लगा दिया.

सुकुरहुट्टू एक तरफ कहां के रोड से जुड़ा हुआ तो दूसरी तरफ रिंग रोड से जुड़ा हुआ इलाका है,मगर पिछले 25 सालों से वहां के लोग अच्छी सड़क नाली और पेयजल के लिए परेशान हैं.

निवर्तमान सांसद रामटहल चौधरी को भारी विरोध का सामना करना पड़ा. आज कल में सुबोधकांत सहाय भी आने वाले हैं. उनको भी जनआक्रोश का सामना करना पड़ेगा, क्योंकि वह भी उनके सांसद रह चुके हैं. फाइनल फैसला यही है कि इस बार सुकुरहुट्टू पंचायत वोट बहिष्कार करेगा.

This post has already been read 6394 times!

Sharing this

Related posts