सपा-बसपा में नहीं बचा कोई दमः भाजपा

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के शीर्ष नेता मुलायम सिंह यादव और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती की संयुक्त रैली पर तंज कसते हुए कहा कि देश में नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता से घबराए लोग एक साथ आ खड़े हुए हैं। पार्टी ने कहा कि मोदी की आंधी से इस तरह बदहवास हुए ये लोग जो पेड़ खोखले थे, उन्हीं से लिपट गए। भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि न सपा में और न बसपा में कोई दम बचा है, लेकिन ‘बहन जी’ के सबसे बड़े अपमान के बावजूद ये लोग आज एक साथ रैली कर रहे हैं। लोग उन दिनों को याद कर रहे हैं जब दोनों दलों के बीच किस तरह का तनाव था। सपा-बसपा दलों के शासन में भ्रष्टाचार हुआ है। दोनों दल परिवारवादी हैं इसलिए दोनों दल मोदी जी की आंधी से बचने के लिए इकट्ठे हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता दोनों दलों को अच्छी तरह से जानती है और देश की जनता का गठबंधन मोदी के साथ है। इससे साफ संदेश गया है कि पहले और दूसरे चरण के मतदान से सपा-बसपा को बड़ी निराशा मिली है। उल्लेखनीय है कि मैनपुरी में सपा के शीर्ष नेत मुलायम सिंह और मायावती ने एक संयुक्त रैली को संबोधित किया। मायावती ने मुलायम को भारी मतों से जीत दिलाने की अपील करते हुए कहा कि वही पिछड़ों के असली नेता हैं जबकि नरेन्द्र मोदी पिछड़ो के नकली नेता हैं। शाहनवाज ने कहा कि अब तो यह पता ही नहीं चल रहा कि कौन नेता किस दल में है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने लखनऊ में अपना उम्मीदवार उतारा है किंतु उसके नेता और पटना साहिब से उम्मीदवार शत्रुघ्न सिन्हा लखनऊ में कांग्रेस की बजाय सपा उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं। इतना ही नहीं उनको अपनी पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी की बजाय सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव में पीएम मटेरियल दिख रहा है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा 2019 के आम चुनाव के नतीजे भाजपा और राजग के पक्ष में आएंगे, क्योंकि कश्मीर से कन्याकुमारी तक मोदी की हवा चल रही है।

This post has already been read 6266 times!

Sharing this

Related posts