National : जवानों संग दिवाली मना पीएम मोदी ने भरा जोश…

जम्मू। हर साल की तरह इस बार भी दिवाली मनाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय सेना के जवानों के बीच पहुंचे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना के जवानों के साथ दीपावली मनाने की अपनी परंपरा को बरकरार रखते हुए दीपों के उत्सव के अवसर पर बृहस्पतिवार को जम्मू- कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में जवानों से मुलाकात की।

और पढ़ें : विशालकाय कंकाल ‘बिग जॉन’ 52 करोड़ रुपए में बिका

इस दौरान उन्होंने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी और कहा कि हमारे सैनिक हैं ‘मां भारती’ के ‘सुरक्षा कवच’ हैं। पीएम मोदी ने जवानों से कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक में यहां की ब्रिगेड ने जो भूमिका निभाई थी वह देश के हर नागरिक को गर्व से भर देता है। दिवाली के दिन नौशेरा में जवानों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे जवान ‘मां भारती’ के ‘सुरक्षा कवच’ हैं। आप सभी की वजह से ही हमारे देश के लोग चैन की नींद सो पाते हैं और त्योहारों में खुशी रहती है। उन्होंने आगे कहा कि मैंने हर दिवाली हमारी सीमाओं की रक्षा करने वाले सैनिकों के साथ बिताई है।

Ads

आज मैं अपने साथ यहां अपने सैनिकों के लिए करोड़ों भारतीयों का आशीर्वाद लेकर आया हूं। पीएम मोदी ने कहा कि आज मैं फिर आप के बीच आया हूं। आज फिर मैं आपसे नई ऊर्जा, नई उमंग, नया विश्वास लेकर जाऊंगा। मैं अकेला नहीं आया हूं, 130 करोड़ देशवासियों का आशीर्वाद आपके लिए लेकर आया हूं। आज शाम को दीपावली का एक दीपक आपकी वीरता, शौर्य, पराक्रम, त्याग और तपस्या के नाम पर भारत का हर नागरिक उस दीपक की ज्योत के साथ आपको अनेक-अनेक शुभकामनाएं भी देता रहेगा।

वीडियो देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें : YouTube

इस दौरान पीएम मोदी ने भारत माता की जय नारे भी लगाए। इसके बाद उनके साथ मौजूद जवानों ने भी जोश से ओत-प्रोत होकर भारत माता की जय नारे लगाए। पीएम मोदी ने जवानों संग फोटो भी खिंचवाया। बता दें कि केंद्र शासित प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्र में हाल में सेना और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। आधिकारिक सूत्रों ने नौशेरा में सेना की चौकी पर मौजूद प्रधानमंत्री की तस्वीरें साझा कीं। नौशेरा में पीएम मोदी ने जवानों से मुलाकात की है और फिर ड्यूटी के दौरान शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Ads

सैनिकों के साथ दिवाली मनाने के पीएम मोदी के प्लान से निश्चित तौर पर जवानों का मनोबल बढ़ेगा। बता दें कि अक्टूबर में भारतीय सेना ने दक्षिण पीर पांजाल में 11 जवानों को खोया है। इस क्षेत्र में अचानक आंतकवाद बढ़ा है। अनुच्छेद 370 हटाए जाने की दूसरी वर्षगांठ के एक दिन बाद 6 अगस्त को इस इलाके में एनकाउंटर हुआ था।

This post has already been read 72151 times!

Related posts