मोबिल क्रिकेट चैलेंज:  खेल कर तो देखो

मुंबई। क्रिकेट के बुखार को और बढ़ाने के
लिए लुब्रिकेशन ब्रांडएक्सॉनमोबिलने अपनी नई क्रिकेट चुनौती ‘खेल कर तो देखो’की शुरुआत की है। यह एक एआर तकनीक संचालित पहल है जिसका आयोजन 15 शहरों में किया जा रहा है।  
 इस चैलेंज में 7 जुलाई 2019 तक 19 मोबिल  ब्रांडेड एआर (ऑगमेंटेड रियलिटी)  डिजिटल स्क्रीन वैन और  15 शहरों में चक्कर लगाएगी।यह एक सरल चुनौती है, जहां प्रतिभागी को फिजिकल बैट पर गेंद की उछाल का अनुकरण करना है। एआरस्क्रीन पर उसे गेंद दिखाई देगी और यहीं प्रतिभागी का स्कोर संकलित करेगी।  जो प्रतिभागी एक मिनट तक बॉल उछालने में कामयाब रहेगा, उसे विजेता माना जाएगा। एक्सॉनमोबिल लुब्रिकेंट्स प्रा.लिमिटेड के धीरज भूषण के मुताबिक भारत क्रिकेट से प्रेम करने वाला देश है। अभी विश्वकप भी चल रहा है। इन दिनों लोग क्रिकेट के बुखार में डूबे हुए हैं। ऐसे में ऑगमेंटेड रियलिटी से पावर्ड हमारी वैन का मकसद इस रोमांच और भावना को और बढ़ाना है, जिसमें क्रिकेट के दीवाने खेल को वर्चुअल ढंग से खेलना पसंद करेंगे।   इस एआर मुहिम के अलावा दर्शकों को ऑन ग्राउंड क्रिकेट से भी जुड़ने का मौका मिलेगा। इसके लिए ‘मोबिल – क्रिकेट के चैंपियन’  नामक कैंपेन शुरू किया गया है। इसमें क्रिकेट पर आधारित प्रश्‍न पूछे  जाएंगे और सही जवाब देने वाले को एक्सॉनमोबिल से संबंधित वस्तुएं प्रदान की जाएंगी।

This post has already been read 4809 times!

Sharing this

Related posts