2025 तक विश्व के टॉप थ्री देशों में शामिल होगा भारत : राजनाथ सिंह

  • -रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दी राहुल गांधी को नसीहत: नहीं आती राजनीति, पढ़ लें रामायण

फरीदाबाद। देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री मोदी से एलर्जी है। देश की सैन्य ताकत को बढ़ाने के लिए राफेल खरीदने की चर्चा 10-12 साल से चल रही थी, लेकिन कोई निर्णय नहीं लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुटकी बजाकर फैसला कर दिया। अब वह प्रधानमंत्री के बारे में अपशब्दों का प्रयोग करते हैं, जो लोग भ्रष्टाचार के मामले में खुद जमानत पर बाहर हैं, वे प्रधानमंत्री पर भ्रष्टाचार के आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत आज दुनिया के अर्थव्यवस्था के मामले में टॉप छह देशों में खड़ा है और 2025 आते-आते भारत दुनिया के टॉप तीन देशों में आ जाएगा। राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी को नसीहत देते हुए कहा कि अगर उन्हें राजनीति नहीं करनी आती तो वह रामायण ही पढ़ लेें, कैसे भगवान राम ने मर्यादा पुरुषोत्तम की परंपरा को निभाया। रावण राम से धनवान था, बलवान व ज्ञान था, उसे मृत्यु पर विजय प्राप्ति थी, इसके बावजूद आज भी पूजा राम की होती है न कि रावण की। राजनाथ सिंह ने कहा कि सत्तापक्ष हो या विपक्ष, किसी नेता के लिए अपशब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, गर्वनर और मुख्य न्यायाधीश ये इंस्टीच्यूशंस होते है व्यवस्था होती है। इनकी गरिमा और प्रतिष्ठा किसी भी सूरत में नहीं गिरनी चाहिए।

राजनाथ सिंह शुक्रवार को पृथला क्षेत्र के गांव छांयसा में आयोजित विजय संकल्प रैली को संबोधित कर रहे थे। राजनाथ सिंह ने कहा कि राफेल फाईटर प्लेन है, जिस समय आतंकियों ने पुलवामा में 40 जवानों को मार गिराया, प्रधानमंत्री का कलेजा था, जो उन्होंने फैसला लेकर सैनिकों को बदला लेने के लिए कहा और पाकिस्तान के बालाकोट में जवानों ने आतंकियों को नेस्तानाबूद कर दिया। उन्होंने कहा कि अगर उस समय राफेल होती तो पाकिस्तान जाने की जरुरत नहीं होती बल्कि भारत की धरती से ही उन आतंकियों का सफाया कर देते। राफेल खरीद में राहुल गांधी चोरी का आरोप लगाते हैं, गाली हैं, जो गलत है। भारत की आत्मा उसकी संस्कृति है, उन्हें यह समझना चाहिए, जिस प्रकार वह राफेल मामले में अपशब्द बोल रहे है, उस तेजी से कांग्रेस खंड खंड होकर नीचे जा रही है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि दशहरा पर्व पर वह फ्रांस में थे, ऐसे में हर वर्ष वह विजयदशमी पर शस्त्र पूजा करते हैं। उन्होंने कहा कि इस बार राफेल की ही पूजा क्यों न की जाए, उन्होंने पूजा का सामान एकत्रित कर राफेल पर ऊं लिख दिया, जिसको लेकर भी राहुल गांधी का हाजमा खराब हो गया। 
कांग्रेस पर लगाया कश्मीर का अंतरराष्ट्रीयकरण का आरोप
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस सरकार पर कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाकर वहां शांति व सुरक्षा व्यवस्था कायम की तो कांग्रेस अब लंदन में बैठकर कश्मीर मुद्दे पर बात करना चाहती है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि वह कश्मीर का किसी भी सूरत में अंतरराष्ट्रीयकरण नहीं होन देंगे। उन्होंने कहा कि 370 हटाकर प्रधानमंत्री ने एक कानून, एक अधिकार, एक संविधान लागू किया क्योंकि भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में इसका उल्लेख किया था और भाजपा की कथनी करनी में कोई अंतर नहीं है। जनता को गुमराह करने वाले राजनेता जो कहते कुछ हैं करते कुछ हैं, के चलते लोगों का राजनीति में विश्वास खत्म होता जा रहा है, जिस चुनौती को हमने स्वीकार किया और हम ये कहना चाहते हैं कि जनता के विश्वास को किसी कीमत पर नहीं टूटने देंगे।
विश्व के टॉप थ्री देशों में होगा भारत
राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत आज दुनिया के अर्थव्यवस्था के मामले में टॉप छह देशों में खड़ा है और 2025 आते-आते भारत दुनिया के टॉप तीन देशों में आ जाएगा। उन्होंने कहा कि हम भारत को केवल महाशक्ति ही नहीं बल्कि ताकतवर बनाना चाहते है क्योंकि हमारे देश के ऋषि मुनियों ने विश्व में एकजुट होने जो आशीष दिया है, उसका ही परिणाम है कि भारत विश्व गुरु बनने की ओर अग्रसर हो रहा है। 
कमजोर नहीं दुनिया में ताकतवर बना भारत 
राजनाथ सिंह कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत अंतर्राष्ट्रीय जगत में तेजी से बढ़ा है, अब भारत कमजोर देश नहीं बल्कि दुनिया का ताकतवर देश है। उन्होंने कहा कि 2014 में जिस समय हमारी सरकार बनी, हमने देखा कि आजादी के 70 सालों बाद भी लोग बुनियादी सुविधाओं से महरुम है। प्रधानमंत्री ने कैबिनेट की बैठक में निर्णय लिया कि बिजली, पानी सडक़ें जैसी बुनियादी सुविधाएं जनता तक पहुंचाई जाएगी और इसी कडी में देश के 18 हजार 400 गांवों में बिजली नहीं थी, वहां बिजली पहुंचाई गई। चौड़ी-चौड़ी सडक़ों का जाल बिछाने का काम पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी ने शुरु किया था, हमने भी गांवोंं को सडक़ों से जोडने का काम किया। सडक़ों का जाल बिछाया, गांव से गांव, गांव से रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड एयरपोर्ट जोडे। वहीं पानी के संकट से निपटने के लिए जल प्रबंधन योजना की शुरुआत की है, जिसके चलते साढे तीन लाख करोड़ खर्च करने का फैसला लिया, जहां बाढ़ आती है, वहां के रहने को राहत देने और जहां सूखा आता है, वहां राहत देने को लेकर एक योजना तैयार की है। उन्होंने कहा कि 2022 समाप्त होते तक हर परिवार के पास अपना मकान होगा। 
मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रशंसा
राजनाथ सिंह ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जब सत्ता संभाली थी तो उन्हें अनुभव नहीं था, विपक्षी कहते थे, ये कहते सरकार चलाएंगे, न कभी विधायक रहे न सांसद फिर भी पांच सालों के दौरान उन्होंने जिस नीति से काम किए है, आज लोग उनकी कार्यशैली की प्रशंसा करते है। उन्होंने कहा कि पांच सालों के दौरान तो सीएम और न ही उनकी कैबिनेट पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप लगा है। उन्होंने भावांतर योजना के लिए मुख्यमंत्री सीएम की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह भी उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री रहे परंतु उन्हें भी भावांतर योजना शुरु करने की नही सूझी। मुख्यमंत्री ने हरियाणा में पारदर्शी सिस्टम लागू कर बिना खर्ची पर्ची के लोगों को रोजगार देने का काम किया। उन्होंने मंच से लोगों से आह्वान किया कि वह भाजपा प्रत्याशी को विजयी बनाकर मनोहर लाल के हाथों को मजबूत करें, जिससे कि प्रदेश में दोबारा हरियाणा की सरकार बनाई जा सके। इस मौके पर लोगों ने चांदी का मुकुट बनाकर, तलवार भेंट कर व पगड़ी बांधकर स्वागत किया। 
ये रहे मौजूद
भाजपा प्रत्याशी सोहनपाल छोकर, जेवर से विधायक धीरेंद्र प्रताप सिंह, पृथला के विधायक पं. टेकचंद शर्मा, पूर्व मुख्य संसदीय सचिव कुमारी शारदा राठौर, भाजपा नेता डा. बलदेव अलावलपुर, सुरेंद्र तेवतिया, हरेंद्रपाल राणा, जिलाध्यक्ष गोपाल शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष नीरा तोमर सहित अनेकों भाजपा नेता मौजूद थे।

This post has already been read 1057 times!

Sharing this

Related posts