आरटीई के तहत आठवीं पास छात्रों के मुद्दे पर सरकार गंभीर, शीघ्र निकलेगा हल : जावडेकर ml

उदयपुर। शिक्षा का अधिकार (आरटीई) के तहत निजी स्कूलों में नि:शुल्क शिक्षा प्राप्त कर रहे आठवीं पास छात्रों के समक्ष आगे की पढ़ाई को लेकर समस्या उत्पन्न हो गई है। निजी स्कूल नौवीं कक्षा में प्रवेश के लिए मोटी रकम मांग रहे हैं। इस मामले में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री एवं राजस्थान भाजपा के लोकसभा चुनाव प्रभारी प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि सरकार इस मुद्दे पर गंभीर है। इसका कोई न कोई हल शीघ्र निकाला जाएगा। जावडेकर ने उदयपुर स्थित पार्टी कार्यालय में रविवार को पत्रकार वार्ता में कहा, यह मुद्दा बिल्कुल सही है और सरकार की जानकारी में है। आरटीई के तहत नि:शुल्क शिक्षा पाने वाला यह पहला बैच है, जो आठवीं पास करके निकल रहा है। उल्लेखनीय है कि देश में आरटीई के तहत आठवीं तक निजी स्कूलों में 25 फीसदी सीटें नि:शुल्क हैं। पूर्व में सरकारें यह कहती आई हैं कि जब तक पहला बैच आठवीं तक पहुंचेगा तब तक माध्यमिक शिक्षा में भी ऐसे ही प्रावधान कर दिए जाएंगे, लेकिन अब तक इस संबंध में कुछ भी नहीं हुआ है। नतीजन 8वीं उत्तीर्ण होने के बाद गरीब छात्र 9वीं में फिर से खुद को लाचार महसूस कर रहा है। 

This post has already been read 13015 times!

Sharing this

Related posts