देश की 42 साल सेवा करने के बाद सेवानिवृत्त हुए जनरल नरवणे, मनोज पांडे ने कार्यभार संभाला

-साउथ ब्लॉक लॉन में सेरेमोनियल गार्ड ऑफ ऑनर प्रदान करके विदाई दी गई

-सेवानिवृत्त होने के बाद राष्ट्रीय युद्ध स्मारक जाकर वीर शहीदों को श्रद्धांजलि दी

नई दिल्ली। देश के 28वें थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे शनिवार को 28 महीने का कार्यकाल पूरा करने के बाद सेवानिवृत्त हो गए। साउथ ब्लॉक लॉन में सेरेमोनियल गार्ड ऑफ ऑनर प्रदान करके उन्हें विदाई दी गई। जनरल एमएम नरवणे ने सेवानिवृत्त होने के बाद राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर माल्यार्पण करके शहीदों को श्रद्धांजलि दी। लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे ने जनरल एमएम नरवणे से भारतीय सेना के आज ही 29वें सेनाध्यक्ष का पदभार संभाल लिया। उन्हें औपचारिक रूप से कार्यभार संभालने के लिए 01 मई को सुबह 09:30 बजे साउथ ब्लॉक लॉन, गेट नंबर 2 के पास गार्ड ऑफ ऑनर दिया जायेगा।

और पढ़ें : शराब तस्करी के आरोप में बस एजेंट गिरफ्तार, चालक फरार

जनरल नरवणे ने 28वें सेना प्रमुख के रूप में 31 दिसंबर, 2019 को कार्यभार संभाला था। वह बतौर भारतीय सेना प्रमुख तीन दिवसीय दौरे पर 03 अप्रैल को सिंगापुर गए थे। जनरल नरवणे शनिवार को 28 महीने का कार्यकाल पूरा करने के बाद सेवानिवृत्त हो गए। साउथ ब्लॉक लॉन में सेरेमोनियल गार्ड ऑफ ऑनर प्रदान करके उन्हें विदाई दी गई। जनरल नरवणे ने सेवानिवृत्त होने के बाद राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जाकर माल्यार्पण करके शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

थल सेनाध्यक्ष जनरल नरवणे ने पत्नी वीना नरवणे के साथ राष्ट्रपति भवन जाकर सैन्य बलों के सर्वोच्च कमांडर रामनाथ कोविंद और प्रथम महिला सविता कोविंद से मुलाकात की। देश की 42 साल सेवा करने के बाद सेवानिवृत्त होने पर जनरल नरवणे ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाक़ात की। रक्षा मंत्री ने ट्वीट करके कहा कि “जनरल नरवणे के साथ शानदार मुलाकात हुई। एक सैन्य नेता के रूप में उनके योगदान ने भारत की रक्षा क्षमताओं और तैयारियों को मजबूत किया है। मैं उनके भविष्य के प्रयासों में सफलता की कामना करता हूं।”

इसे भी देखें : क्या आप कभी गए हैं रंगरौली धाम!

भारत के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत का 08 दिसम्बर, 2021 को हेलीकॉप्टर दुर्घटना में निधन होने के बाद से रिक्त चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी (सीएससी) के अध्यक्ष पद का अतिरिक्त प्रभार जनरल नरवणे को सौंपा गया है। नरवणे को इस पद का प्रभार मौजूदा तीनों सेना प्रमुखों में सबसे वरिष्ठ होने के कारण दिया गया है। तीनों सेना प्रमुखों में से सबसे वरिष्ठ को ही चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी का अध्यक्ष बनाए जाने की परंपरा है। सीएससी का अतिरिक्त प्रभार दिए जाने के बाद से ही जनरल नरवणे का नाम सैन्य बलों के प्रमुख (सीडीएस) पद के लिए सबसे आगे है। अब जल्द ही देश के अगले सीडीएस के रूप में जनरल नरवणे के नाम का औपचारिक रूप से ऐलान हो सकता है।

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे ने जनरल नरवणे से आज ही भारतीय सेना के 29वें सेनाध्यक्ष का पदभार संभाल लिया। उन्हें औपचारिक रूप से कार्यभार संभालने के बाद 01 मई को सुबह 09:30 बजे साउथ ब्लॉक लॉन, गेट नंबर 2 के पास गार्ड ऑफ ऑनर दिया जायेगा। वह अभी तक सेना के 43वें वाइस चीफ थे और उन्होंने यह कुर्सी 01 फरवरी, 2022 को संभाली थी। थल सेनाध्यक्ष बनने वाले लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे कोर ऑफ इंजीनियर्स के पहले अधिकारी हैं।

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और खबरें देखने के लिए यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। www.avnpost.com पर विस्तार से पढ़ें शिक्षा, राजनीति, धर्म और अन्य ताजा तरीन खबरें…

This post has already been read 12342 times!

Sharing this

Related posts