कश्मीर पर बनी फिल्म के प्रदर्शन का रास्ता साफ

मुंबई। पिछले लंबे समय से सेंसर बोर्ड से लड़ाई लड़ रहे फिल्मकार अश्विन कुमार के लिए राहत की बात है कि कश्मीर पर बनी उनकी फिल्म को रिलीज के लिए सेंसर से हरी झंडी मिल गई है। अश्विनी कुमार ने कश्मीर पर आधारित फिल्म नो फादर्स इन कश्मीर का निर्माण किया था। आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान के साथ अंशुमन झा और कुलभूषण खरबंदा की मुख्य भूमिकाओं वाली ये फिल्म दो ऐसे बच्चों की कहानी है, जो अपने पिता की खोज में कश्मीर घाटी में आते हैं।

सेंसर बोर्ड ने पहले इस फिल्म को पास करने से मना कर दिया और बाद में इसे ए सार्टिफिकेट देने की पेशकश की, जिसे फिल्मकार ने नहीं माना, तो मामला एपीलेट ट्रिब्यूनल में चला गया, जहां से अब फिल्म की रिलीज का रास्ता साफ हुआ है। ट्रिब्यूनल की ओर से सेंसर बोर्ड को फिल्म को यूए सार्टिफिकेट जारी करने का आदेश दिया गया है। अश्विनी कुमार ने उम्मीद जताई है कि इस आदेश के बाद अब उनकी फिल्म को प्रदर्शित होने में कोई अड़चन नहीं होगी। अश्विन इससे पहले लिटिल टेरिरिस्ट आस्कर के लिए नामांकित हो चुकी है। उनकी दो अन्य फिल्मों इंशाअल्लाह कश्मीर और इंशाअल्लाह फुटबाल को नेशनल एवार्ड मिल चुके हैं। अश्विन कुमार का कहना है कि वे सेंसर बोर्ड से अधिकारिक तौर पर प्रमाणपत्र मिलने के बाद फिल्म को सिनेमाघरों में प्रदर्शन की तैयारियां करेंगे। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले दो महीनों में उनकी फिल्म भारत तथा दुनिया के अन्य देशों के सिनेमाघरों में पंहुच जाएगी।

This post has already been read 6306 times!

Sharing this

Related posts