बोईंग 737 मैक्स 8 कंपनी को 42 अरब डालर का नुक़सान, उड़ानें बंद, शेयर धड़ाम

लॉस एंजेलिस। ईंधन में बचत और परिचालन लागत में किफ़ायती 21वीं सदी के बहुचर्चित बोईंग 737 मैक्स 8 विमानों की उड़ाने रोक देने से इस बोईंग कंपनी को अभी तक 42 अरब डालर का नुक़सान हो चुका है। इस कंपनी के शेयर भी तीसरे दिन ज़मीन पर आ चुके हैं। उल्लेखनीय है कि रविवार को ईथोपिया में अदिस अबाबा से नैरोबी जा रहे बोईंग 737 मैक्स 8 विमान के उड़ान भरने के तुरंत बाद दुर्घटनाग्रस्त होने पर बुद्धवार को दुनिया भर में इसके सभी 371 विमानों को अस्थाई तौर पर ज़मीन पर खड़ा कर दिए जाने के आदेश जारी हो गए हैं। इस दुर्घटना के बाद मंगलवार रात तक 42 देशों ने बोईंग 737 विमानों को उड़ान भरने से रोक दिया था। वाल स्ट्रीट के विश्लेषकों की माने तो इस बोईंग कंपनी को अभी तक 42 अरब डालर का नुक़सान हो चुका है। इसके बावजूद अमेरिकी बोईंग कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और फ़ेडरल उड्डयन प्रशासन के आश्वासनों के बाद मंगलवार तक अमेरिकी एयरलाइन और साउथ वेस्ट एयरलाइन के 54 विमान उड़ान भर रहे थे। लेकिन देश भर में राजनैतिक और विमान चालक दल के संगठनों की ओर से भारी विरोध के बाद इन दोनों कंपनियों ने भी अपने इन विमानों की उड़ानें रोक दीं। इसकी घोषणा ख़ुद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने की। उन्होंने यह घोषणा बुद्धवार को व्हाइट हाउस में की। उन्होंने कहा कि लोगों के जान माल की सुरक्षा बहुत ज़रूरी है। अमेरिका और कनाडा के उड्डयन प्राधिकरणों ने बुद्धवार को कहा कि दुर्घटनाग्रस्त बोईंग 737 मैक्स विमान के स्टेटलाइट से जो डाटा मिल रहे हैं, वे मौजूदा विमानों के डाटा से मेल खाते हैं। इस तरह के डाटा अक्टूबर में इंडोनेशियाई ”लायन एयरलाइन” के दुर्घटना ग्रस्त बोईंग 737 विमान से भी मेल खाते प्रतीत होते हैं। इससे पूर्व ईथोपिया एयरलाइन के प्रवक्ता ने कहा था कि विमान दुर्घटना से पहले विमान उड़ा रहे एक पायलट ने कंट्रोल रूम से ट्रेफ़िक कंट्रोल में समस्या की चर्चा की थी और वह विमान को वापस हवाई अड्डे पर लेकर आना चाह रहा था। इसकी इजाज़त भी दे दी गई थी। तभी विमान का ट्रेफ़िक कंट्रोल कक्ष से सम्पर्क टूट गया और विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसी तरह के डाटा पिछले साल अक्टूबर में इंडोनेशियाई ”लायन एयरलाइन” के बोईंग 737 मैक्स विमान के साथ हुआ था।

This post has already been read 5638 times!

Sharing this

Related posts