बीजेपी सांसद उदित राज पर ब्लैकमनी के इस्तेमाल का आरोप, सीबीआई जांच की मांग

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले एक स्टिंग सामने आया है जिसमें दावा किया गया है कि कई सांसदों ने चुनाव के दौरान मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए अवैध तरीके (पैसा, शराब और अन्य लुभावने वादे) अपनाने की बात कबूल की है। इस कथित स्टिंग में दिल्ली के बीजेपी सांसद उदित राज का नाम भी आया है। स्टिंग में नाम सामने के आने के बाद उदित राज ने इसे फर्जी करार देते हुए सीबीआई जांच कराने की मांग भी की है।

न्यूज चैनल टीवी9-भारतवर्ष की खबर के मुताबिक, कुल 21 राजनेताओं का स्टिंग किया गया जिनमें 18 सांसद हैं। इस स्टिंग में दावा किया गया है कि इनमें से 15 सांसदों ने चुनाव के दौरान वोटरों को लुभाने के लिए कालेधन का इस्तेमाल करने की बात स्वीकार की है। इस कथित स्टिंग के मुताबिक बीजेपी, कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, लोजपा, आम आदमी पार्टी और अन्य दलों के 15 सांसदों ने किसी ना किसी प्रकार कालाधन खर्च करने की बात स्वीकार की जबकि केवल 3 सांसद ऐसे थे जो पाक साफ निकले।

इस खुलासे को फर्जी को बताते हुए बीजेपी सांसद उदित राज ने सीबीआई जांच की मांग की है और कहा है कि इसके खिलाफ वे पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराएंगे। उदित राज ने कहा है कि निजी बातचीत को तोड़-मरोड़कर दिखाया गया है और उसे स्टिंग का रूप दिया गया है। उदित राज ने चैनल के इस कदम को ब्लैकमेल करने वाला करार दिया। उदित राज ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी पर भी उनकी बातों को संदर्भ से अलग हटकर दिखाया गया है। बीजेपी सांसद ने वीडियो से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया और कहा कि इसमें अपनी जरूरत के हिसाब से कांट-छांट की गई है।

This post has already been read 7613 times!

Sharing this

Related posts