अमेरिका का प्रतिबंध भारत की कुटनीतिक विफलता : कांग्रेस

नई दिल्ली । कांग्रेस ने अमेरिका द्वारा भारत पर ईरान से तेल खरीदने पर पाबंदी लगाने को सरकार की कुटनीतिक विफलता करार दिया है। पार्टी का कहना है कि भारत जैसे संप्रभु राष्ट्र को अमेरिका के ऐसे मनमाने प्रतिबंधों के आगे नहीं झुकना चाहिए। 
कांग्रेस की ओर से पूर्व केन्द्रीय मंत्री जयराम रमेश ने पार्टी मुख्यालय में पत्रकार वार्ता कर कहा कि अमेरिका के प्रतिबंधों के कारण भारत एक मई से ईरान से कच्चा तेल आयात नहीं कर सकेगा। मोदी सरकार अमेरिका से अपने विशेष संबंधों की बात करती है लेकिन इस मोर्चे पर स्पष्ट रूप से विफल रही है। 
कांग्रेस नेता ने कहा कि इससे पेट्रोल-डीजल, उज्ज्वला गैस के मूल्य में वृद्धि होने वाली है। यह हमारी राजनैतिक प्रभुता पर सीधा हमला है। हम कहां से तेल खरीदेंगे, ये अमेरिका नहीं तय करेगा बल्कि यह भारत की सरकार तय करेगी। जयराम रमेश ने कहा कि चाबहार बंदरगाह में भारत का बड़े पैमाने पर निवेश अमेरिकी प्रतिबंधों से प्रभावित होगा। यह बंदरगाह अफगानिस्तान और मध्य एशिया से सीधा समुद्री जुड़ाव है। अमेरिका का यह निर्णय हमारी कूटनीतिक विफलता को दर्शाता है।

This post has already been read 7059 times!

Sharing this

Related posts