कार की तेज रफ्तार व सेंटर लॉक जाम होने से 8 की मौत, सीएम ने जताया दुख

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश के बेमेतरा ज़िले से लगे गांव मोहभट्टा में गुरुवार देर रात तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे तालाब में जा ग‍िरी, जिससे कार में सवार सभी आठ लोगों की मौत हो गई। पुल‍िस ने कार की तेज रफ्तार व सेंटर लॉक स‍िस्‍टम जाम होना प्रमुख कारण बताया है। वहीं पुल‍िस ने सभी मृतकों के शवों का  शुक्रवार को पोस्‍टमार्टम करवाकर पर‍िजनों को सौंप द‍िया है। इस हादसे को लेकर आज प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्विट कर शोक जताया है। उल्लेखनीय है क‍ि कार आई 20 आरटीओ नंबर सीजी 10 एफए 7585 में ड्राइवर सह‍ित आठ लोग सवार होकर एक कार्यक्रम में चांदूल जा रहे थे। मोहभट्टा गांव में कार अन‍ियंत्र‍ित होकर तालाब में जा ग‍िरी। गांव के लोगों ने  पुल‍िस को सूच‍ित करते हुए बचाव कार्य में जुट गए। मौके पर पहुंची पुलिस भी सभी को अस्पताल लेकर गई, लेक‍िन डॉक्‍टर ने सभी को मृत घोष‍ित कर द‍िया। सभी मृतक बेमेतरा क्षेत्र के गांव देवरी नांदल के निवासी थे, जो कि समीपस्थ गांव चांदूल जा रहे थे, जहां पारिवारिक कार्यक्रम था। कार की रफ्तार बेहद  तेज थी। हादसे में मारे गए लोगों की आसकरण टंडन, संतरा टंडन, सत्या टंडन, रुहान टंडन, अनिता टंडन, निखिल टंडन, आसकरण दिवाकर और आशा टंडन के रूप में बेमेतरा पुलिस ने पहचान सार्वजनिक की है। घटना को लेकर प्रत्यक्षदर्शियों के बयान पर भरोसा करें तो हादसा टल सकता था, बशर्ते कार की गति धीमी होती। हादसे के बाद केवल दस मिनट में बचाव के लिए पुलिस और नागरिक सक्रिय हो गए थे, लेकिन कार का सेंट्रल लॉक सिस्टम जाम हो गया और बहुत तेजी से पानी कार के भीतर जा समाया, जिससे कार में सवार सभी आठ व्यक्तियों की मौत हो गई।  प्रदेश के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट क‍िया ” बेमेतरा में अन‍ियंत्र‍ित कार तालाब में ग‍िरने से आठ लोगों की मौत दुखद है। मैं ईश्‍वर से द‍िवंगत आत्‍माओं की शांत‍ि और उनके पर‍िवारजनों को संबल प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं।”

This post has already been read 16390 times!

Sharing this

Related posts